इंडिगो के सीईओ ने कहा, टाटा के तहत एयर इंडिया वास्तविक चुनौती होगी

आकाश एयर को इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष, जाने-माने निवेशक राकेश झुनझुनवाला और जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दुबे का समर्थन प्राप्त है, जिसे सोमवार को नागर विमानन मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) मिला.

इंडिगो के सीईओ ने कहा, टाटा के तहत एयर इंडिया वास्तविक चुनौती होगी

नई दिल्ली:

इंडिगो (Indigo) के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) रोनोजॉय दत्ता ने बुधवार को कहा कि टाटा समूह (Tata Group) के तहत पुनगर्ठित एयर इंडिया (Air India) एक नयी वास्तविक चुनौती होगी. जबकि नयी एयरलाइन ‘आकाश एयर' अगले दो-तीन वर्ष के दौरान बहुत कम प्रतिस्पर्धी ताकत रहेगी.

आकाश एयर को इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष, जाने-माने निवेशक राकेश झुनझुनवाला और जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दुबे का समर्थन प्राप्त है, जिसे सोमवार को नागर विमानन मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) मिला.

उन्होंने कहा कि आकाश एयरलाइन अभी या अगले दो-तीन वर्षों के लिए बहुत कम प्रतिस्पर्धी रहेगी. वे धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगे, उन्हें स्लॉट प्राप्त करना होगा, विमान लेने होंगे. वे धीमी गति से आगे बढ़ पाएंगे.


दत्ता ने विमानन परामर्श कंपनी (सीएपीए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में पूर्व-रिकॉर्डेड साक्षात्कार में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इसके विपरीत हम अच्छी स्थिति में हैं. हम सबसे किफायती एयरलाइन हैं. किसी के लिए भी अपनी लागत को हमसे कम करना मुश्किल होगा.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ेंः



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)