भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 35.6 प्रतिशत बढ़ोतरी

पिछले 24 घंटे में कोरोना से 33,964 लोग ठीक हुए जिससे ठीक होने वालों संख्या बढ़कर 3,19,93,644 हो गई है. वीकली पोजिटिविटी रेट 2.58% है जो कि पिछले 68 दिनों से 3 प्रतिशत पर बनी हुई है.

भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 35.6 प्रतिशत बढ़ोतरी

कोरोना के मामलों में आज फिर उछाल देखा गया है....

नई दिल्ली:

भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 35.6 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 41,965 केस सामने आए और 460 लोगों की मौत हुई. भारत में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 3,78,181 है. वहीं रिकवरी रेट 97.51% पर है. पिछले 24 घंटे में कोरोना से 33,964 लोग ठीक हुए जिससे ठीक होने वालों संख्या बढ़कर 3,19,93,644 हो गई है. वीकली पोजिटिविटी रेट 2.58% है जो कि पिछले 68 दिनों से 3 प्रतिशत पर बनी हुई है. वहीं डेली पोजिटिविटी रेट 2.61% पर है. पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक 1,33,18,718 वैक्सीनेशन हुआ. अब तक कुल वैक्सीनेशन 65,41,13,508 हो चुका है. सिर्फ अगस्त की बात करें तो 18.3 करोड़ वैक्सीन दी गई हैं.

महाराष्ट्र में 4 हजार के पार आ रहे हैं कोरोना के मामले

महाराष्ट्र में मंगलवार को जारी रिपोर्ट में कोविड-19 के 4,196 नये मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर प्रदेश में 64,64,876 हो गयी जबकि 104 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 1,37,313 पर पहुंच गयी. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 4,688 मरीज संक्रमण मुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 62,72,800 हो गयी. राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 51,238 हो गयी है.

बिहार में साल के अंत कर सभी लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बिहार में इस साल के अंत तक सभी लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया है, लेकिन राज्य में वैक्सीन की कमी को देखते हुए यह बेहद मुश्किल नजर आ रहा है.राज्य में अब तक तीन करोड़ साठ लाख टीके दिए जा चुके हैं एनडीटीवी की टीम ने राज्‍य के ग्रामीण इलाक़ों में जाकर वैक्‍सीनेशन का जायजा लिया. राजधानी पटना से करीब 25 किलोमीटर दूर मनेत हाई स्कूल में बनाया गया वैक्सीन सेंटर, यहां टीका लगवाने के लिए महिलाओं की लंबी क़तार लगी है. कतार में खड़े कुछ लोगों में बताया कि दो दिन पहले भी टीका लगवाने इस केंद्र आए  थे लेकिन लौटना  पड़ा था. आज तय करके आए हैं कि कुछ भी हो टीका लगवाकर ही जाएंगे.  आसपास के सारे टीकाकरण केंद्रों में यह  शिकायत आम है कि टीके की कमी की वजह से लोगों को बार-बार आना पड़ता है. इसी से समझ सकते हैं कि वैक्सीन की कितनी कमी है.