भारत ने 94 देशों, UN की दो संस्थाओं को कोविड टीके की 723 लाख से अधिक खुराक की आपूर्ति की : सरकार

पवार ने कहा कि दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में, 50 से अधिक देशों से कोविड से संबंधित उपकरणों और दवाओं के रूप में सहयोग प्राप्त हुआ. इनमें विदेशी सरकारों, निजी कंपनियों, विदेशों में भारतीय संघों आदि से आपूर्ति शामिल थी.

भारत ने 94 देशों, UN की दो संस्थाओं को कोविड टीके की 723 लाख से अधिक खुराक की आपूर्ति की : सरकार

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री भारती प्रवीण पवार (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

सरकार ने राज्यसभा को बताया कि भारत ने इस साल जनवरी में ‘‘टीका मैत्री कार्यक्रम'' की शुरुआत के बाद से 94 देशों और संयुक्त राष्ट्र की दो संस्थाओं को कोविड-19 रोधी टीके की 723 लाख से अधिक खुराक की आपूर्ति की है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री भारती प्रवीण पवार ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कोविड महामारी की शुरुआत से भारत ने 150 से अधिक देशों को कोविड-19 संबंधी चिकित्सा एवं अन्य सहायता की आपूर्ति की है. उन्होंने बताया ‘‘जनवरी, 2021 में टीका मैत्री कार्यक्रम की शुरुआत के बाद से, भारत ने 29 नवंबर, 2021 तक अनुदान, वाणिज्यिक निर्यात या कोवैक्स के माध्यम से 94 देशों और संयुक्त राष्ट्र की दो संस्थाओं को कोविड-19 रोधी टीके की 723.435 लाख खुराक की आपूर्ति की है.''

पवार ने कहा कि दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में, 50 से अधिक देशों से कोविड से संबंधित उपकरणों और दवाओं के रूप में सहयोग प्राप्त हुआ. इनमें विदेशी सरकारों, निजी कंपनियों, विदेशों में भारतीय संघों आदि से आपूर्ति शामिल थी. कम आय वाले देशों की मदद करने के संबंध में सरकार की प्रतिक्रिया को लेकर पूछे गए एक अलग सवाल के लिखित जवाब में, पवार ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की सह अध्यक्षता में कोवैक्स सुविधा ने यह सुनिश्चित किया है कि कम आय वाले देशों के लिए वैक्सीन की आपूर्ति में पर्याप्त वृद्धि करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जानी चाहिए. साथ ही, कोविड-19 रोधी टीकों की पर्याप्त आपूर्ति वाले देशों से इनकी खुराक कोवैक्स को दान में देने तथा निर्माताओं से कोवैक्स को आपूर्ति में प्राथमिकता देने का भी आह्वान किया गया है. उन्होंने बताया कि भारत सरकार ने अब तक कोवैक्स को कोविड-19 रोधी टीकों की 222.56 लाख खुराक की आपूर्ति की है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com