चुनावों के ऐलान के दौरान शायराना अंदाज में नजर आए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा

Sunil Arora ने 2 दिसंबर 2018 को मुख्य चुनाव आयुक्त की जिम्मेदारी संभाली. 2019 के लोकसभा चुनाव के साथ ही कोरोना काल में बिहार का चुनाव सफलतापूर्वक संपन्न कराने का श्रेय भी उन्हीं को जाता है.

चुनावों के ऐलान के दौरान शायराना अंदाज में नजर आए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा

Chief Election Commissioner Sunil Arora

मुख्य चुनाव आयुक्त के तौर पर अपनी आखिरी प्रेस कान्फ्रेंस में सुनील अरोरा (Chief Election Commissioner Sunil Arora) ने शुक्रवार को 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव का ऐलान किया. इसमें केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम और पुदुच्चेरी शामिल हैं. अरोरा प्रेस कान्फ्रेंस में शायराना अंदाज में भी नजर आए. 

सीईसी सुनील अरोरा ने शेर पढ़ा- किसी से हम सुखन होता नहीं महफिल में परवाना, उन्‍हें बातें नहीं आती जो अपना काम करते हैं... अरोरा ने परोक्ष अंदाज में यह जताने की कोशिश की अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने आलोचनाओं का जवाब देने की बजाय संवैधानिक कर्तव्यों को बेहतर तरीके से निभाने की कोशिश की. CEC ने हल्के-फुल्के अंदाज में यह भी कहा, चुनाव को शांति और निष्पक्षता के साथ कराने में मीडिया की अहम भूमिका होती है, आप माने या न मानें. इस पर मीडियाकर्मियों के बीच ठहाके गूंजे. वह 13 अप्रैल को अपने पद से रिटायर (Chief Election Commissioner Sunil Arora Retires on 13th april)हो जाएंगे.


सुनील अरोरा देश के 23वें मुख्य चुनाव आयुक्त हैं. 31 अगस्त 2017 को वह चुनाव आयुक्त बने और उन्होंने 2 दिसंबर 2018 को मुख्य चुनाव आयुक्त की जिम्मेदारी संभाली. 2019 के लोकसभा चुनाव के साथ ही कोरोना काल में बिहार का चुनाव सफलतापूर्वक संपन्न कराने का श्रेय भी उन्हीं को जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अरोरा दुनिया भर की चुनावी संस्थाओं ( Association of World Election Bodies, A-WEB) के अध्यक्ष भी हैं. अरोरा 1980 बैच के आईएएस हैं और उन्होंने चुनाव आयुक्त बनने के पहले दो मंत्रालयों में सचिव के पद भी काम किया है.