हैदराबाद : कोरोना संकट के बीच शुक्रवार की नमाज के लिए जमा हुए सैकड़ों लोग, देखिए VIDEO

वीडियो में दिख रहा है कि एक ही छत के नीचे सैकड़ों की तादाद में लोग नमाज के लिए जमा हुए. ज्यादातर लोगों ने मास्क नहीं पहना है.

हैदराबाद : कोरोना संकट के बीच शुक्रवार की नमाज के लिए जमा हुए सैकड़ों लोग, देखिए VIDEO

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

खास बातें

  • देश में कोरोना की दूसरी लहर
  • नमाज के लिए जमा हुए लोग
  • मक्का मस्जिद का वीडियो वायरल
हैदराबाद:

देश कोरोनावायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर का सामना कर रहा है. इस बीच हैदराबाद (Hyderabad Video) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो शुक्रवार का बताया जा रहा है, जिसमें नमाज के दौरान काफी संख्या में लोग जुटे हैं. रमजान के महीने के आखिरी शुक्रवार यानी अलविदा जुमा के दिन मक्का मस्जिद (Hyderabad Mecca Masjid) पर भारी संख्या में मुस्लिम जुटे. कुछ घंटों बाद तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने COVID-19 के खतरे को कम करने के लिए बड़ी सभाओं पर रोक लगा दी.

तेलंगाना सरकार ने शादी समारोह में 100 और अंतिम संस्कार में 20 लोगों के शामिल होने की इजाजत दी है. साथ ही सभी सार्वजनिक सभाओं (सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक) पर भी रोक लगा दी गई है. वीडियो में दिख रहा है कि एक ही छत के नीचे सैकड़ों की तादाद में लोग नमाज के लिए जमा हुए. ज्यादातर लोगों ने मास्क नहीं पहना है. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियम की धज्जियां उड़ाई गईं.

गौरतलब है कि तेलंगाना में पिछले कुछ समय से हर रोज 6000 के करीब कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं. सिर्फ हैदराबाद में ही 1000 मामले सामने आ रहे हैं. शुक्रवार को जारी किए आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 5500 नए केस मिले. इसी के साथ राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 4.87 हो गई.

दिल्ली को हर दिन 700 MT ऑक्सीजन सप्लाई पर SC ने केंद्र से कहा- 'सख्त एक्शन लेने को मजबूर न करें'


तेलंगाना के जन स्वास्थ्य निदेशक जी श्रीनिवास राव ने कहा कि राज्य में वैक्सीन की कमी है. टीके के लिए उन लोगों को प्राथमिकता दी जा रही है, जिन्होंने वैक्सीन की पहली डोज ले ली है. कई राज्यों में वैक्सीन की कमी की बात सामने आई है, जिसकी वजह से टीकाकरण अभियान प्रभावित हुआ है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दिल्ली के बत्रा अस्पताल में ऑक्सीजन न मिलने से डॉक्टर समेत आठ मरीजों की मौत