गुजरात: भरूच में कैमिकल फैक्ट्री में आग लगी, दो मजदूरों की मौत

भरूच जिले के झगड़िया में यूपीएल लिमिटेड के संयंत्र में भीषण आग लगने से 26 लोग जख्मी हो गए, पांच से अधिक कर्मचारी लापता

गुजरात: भरूच में कैमिकल फैक्ट्री में आग लगी, दो मजदूरों की मौत

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

कृषि रसायन की प्रमुख कंपनी यूपीएल लिमिटेड ने मंगलवार को कहा कि उसके गुजरात के भरूच जिले के झगड़िया संयंत्र में भीषण आग लगने से दो कर्मियों की मौत हो गई और 26 अन्य जख्मी हो गए. कंपनी के मुताबिक, पांच से अधिक कर्मचारी लापता हैं. यूपीएल ने कहा कि दुर्घटना तरल पदार्थ में आग/विस्फोट की वजह से हुई हो सकती है लेकिन उसने किसी गड़बड़ी की आशंका से इनकार नहीं किया. इस बीच कंपनी ने कहा कि वह मृतक कर्मियों के परिजनों और प्रभावित कर्मचारियों को मुआवजा देगी.

यूपीएल ने कहा कि गुजरात के झगड़िया इकाई में संयंत्र के बंद रहने के दौरान देर रात भीषण आग लगने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है. कंपनी ने कहा कि विस्फोट एक संयंत्र में हुआ जो वार्षिक बॉयलर निरीक्षण के लिए पांच फरवरी 2021 से बंद था. विस्फोट के बाद आग लगी. यूपीएल ने कहा कि संयंत्र के बंद रहने के कारण कोई रासायनिक प्रतिक्रिया नहीं हुई. उसने कहा कि घटना के दौरान या बाद में किसी रसायन या गैस का रिसाव नहीं हुआ.

स्थानीय पुलिस थाने के पुलिस निरीक्षक पीएच वसावा ने बताया कि यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड के संयंत्र में देर रात करीब दो बजे विस्फोट के बाद आग लगी. स्थानीय सूत्रों ने बताया कि बॉयलर में विस्फोट हुआ जबकि पुलिस अधिकारी ने इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं बताया और कहा कि जांच जारी है.


सूत्रों ने बताया कि झगड़िया औद्योगिक क्षेत्र में स्थित इस फैक्ट्री में दवाइयों में इस्तेमाल होने वाले रसायनों का उत्पादन होता है. वसावा ने बताया, "फैक्ट्री के अंदर मलबे में से अबतक दो शव बरामद किए गए हैं. लापता पांच अन्य की तलाश जारी है." अधिकारी ने बताया कि धमाका इतना जोरदार था कि उसे घटनास्थल से काफी दूरी पर मौजूद लोगों ने भी सुना.
उन्होंने बताया कि मौके पर दमकल की करीब 15 गाड़ियां भेजी गई हैं और आग पर सुबह साढे छह बजे तक काबू पा लिया गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कंपनी ने बताया कि 26 कर्मचारी जख्मी हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिनमें से 15 को छुट्टी दे दी गई है जबकि 11 कर्मी अस्पताल में हैं. किसी की भी स्थिति नाजुक नहीं है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)