कोरोना की तीसरी लहर को टाला नहीं जा सकता, सरकार के वैज्ञानिक सलाहकार ने दी चेतावनी

भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चलते अस्‍पतालों में मरीजों की संख्‍या बढ़ती जा रही है और बड़ी संख्‍या में लोगों को इसके कारण जान गंवानी पड़ी है.

कोरोना की तीसरी लहर को टाला नहीं जा सकता, सरकार के वैज्ञानिक सलाहकार ने दी चेतावनी

भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का सामना कर रहा है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • नए स्‍ट्रेन के लिहाज से वैक्‍सीन को अपडेट करना होगा
  • हमें तीसरी लहर को लेकर सचेत रहना होगा
  • हमने सरकार को जरूरी कदम उठाने को कहा है
नई दिल्ली:

देश में कोरोना के मामलों में आई तेजी के बीच सरकार के वैज्ञानिक सलाहकार ने एक और चेतावनी जारी की है. उन्‍होंने कहा है कि देश में कोरोना की तीसरी लहर को टाला नहीं जा सकता.डॉ. के विजय राघवन ने ब्रीफिंग के दौरान कहा कि नए स्‍ट्रेन का मुकाबला करने के लिए वैक्‍सीन की अपडेट करने की जरूरत होगी, इसके साथ ही टीकाकरण कार्यक्रम को गति भी देनी होगी.भारत में कोरोना संक्रमण के चलते अस्‍पतालों में मरीजों की भीड़ बढ़ती जा रही और बड़ी संख्‍या में लोगों को इसके कारण जान गंवानी पड़ी है. उन्‍होंने कहा, 'जिस उच्‍च स्‍तर पर कोरोना वायरस फैल रहा है, उसे देखते हुए फेज-3 (कोरोना लहर का) का तीसरा चरण टाला नहीं जा सकता. हालांकि यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि यह फेज 3 कब आएगा. लेकिन हमें तीसरी लहर को लेकर सचेत रहना होगा. वैक्‍सीन को अपग्रेड किए जाने पर निगरानी रखे जाने की जरूरत है.'

देश में 109 दिन में दी गईं 16 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्‍सीन की डोज

उन्‍होंने कहा कि हमने राज्‍य सरकारों को जानकारी देकर जरूरी कदम उठाने को कहा है. यूके वरिएंट का असर अब कम हो रहा और नए वेरिएंट प्रभाव दिखा रहे हैं.सरकार के अनुसार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और उत्तर प्रदेश समेत 12 राज्यों में एक लाख से अधिक कोरोना वायरस के मरीज उपचाराधीन हैं. कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, राजस्थान और बिहार उन राज्यों में शामिल हैं जहां दैनिक मामलों में बढ़ोतरी की प्रवृत्ति दिख रही है. सरकार की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, एक मई से, नौ राज्यों में 18-44 आयु समूह के 6.71 लाख लोगों को कोविड रोधी टीका लगाया गया है. प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन ने कहा कि देश में इस तीव्रता की लंबी कोविड लहर का पूर्वानुमान नहीं जताया गया था.
 

गुरुग्राम के निजी अस्पताल में 6 कोविड मरीजों की मौत, परिजनों ने लगाया ऑक्सीजन खत्म होने का आरोप


गौरतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में भारत में कोरोना केसों की रफ्तार थम नहीं रही है. पिछले 24 घंटे अब तक सबसे ज्यादा 3,780 लोगों ने कोरोना वायरस की वजह से अपनी जान गंवाई है. इसके साथ ही भारत में 2,26,188 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. वहीं, इस दौरान 3,82,315 कोविड-19 के नए मामले दर्ज किए गए हैं. देश में अभी 3487229 सक्रिय मामले हैं. वहीं, पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो वह 24.80% हो गई है.  बता दें, कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए कई राज्यों ने सख्ती बरती हुई है, वहीं कुछ राज्यों ने संपूर्ण लॉकडाउन लगा रखा है.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


US: कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले ज्यादातर बुजुर्गों को नहीं पड़ रही अस्पताल जाने की जरूरत