कोरोना के खतरे को लेकर सरकार ने चेताया, कहा- त्योहारी सीजन में एहतियात जरूरी

राजेश भूषण ने कहा कि सभी राज्यों को गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी की गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से अनुरोध किया है की त्योहार समझदारी से मनाएं. कोरोना उचित व्यवहार का ख्याल जरूर रखें.

कोरोना के खतरे को लेकर सरकार ने चेताया, कहा- त्योहारी सीजन में एहतियात जरूरी

त्योहारी सीजन में कोरोना को लेकर सावधानी जरूरी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश में लगातार कम हो रही कोरोना महामारी (India Covid-19) की रफ्तार के बीच सरकार ने एक बार फिर लोगों को सावधानी बरतने के लिए कहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण (Rajesh Bhushan) ने आज कहा कि त्योहारी सीजन में एहतियात बरतना बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा कि गुरुवार को पिछले 24 घंटों में देश में करीब 23 हज़ार कोरोना के नए मामले दर्ज़ किए गए हैं. पिछले हफ्ते दर्ज किए गए कुल मामलों में से 60 फीसद केरल में दर्ज़ किए गए. केरल में अब भी 1 लाख से अधिक कोरोना संक्रमित लोग अस्पतालों में भर्ती हैं. केरल का कुल सक्रिय मामला देश के कुल सक्रिय मामलों का 52 फीसद है.

राजेश भूषण ने कहा कि सभी राज्यों को गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी की गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से अनुरोध किया है की त्योहार समझदारी से मनाएं. कोरोना उचित व्यवहार का ख्याल जरूर रखें. कंटेनमेंट ज़ोन और 5% से ज्यादा पॉजिटिविटी वाले इलाके में लोगों की भीड़ न हो. 5% से कम पॉजिटिविटी वाले इलाके में गैदरिंग के लिए पहले से अनुमति और सीमित संख्या में लोग इकट्ठा हों. भूषण ने कहा कि यात्रा जरूरी हो तभी करें. त्योहार अगर परिवार रिश्तेदार के साथ मनाना है तो उसे ऑनलाइन मनाएं.

उन्होंने बताया कि फिल 5 राज्यों में 10 हजार से 50 हजार सक्रिय मामले हैं. 30 राज्यों में 10 हजार से कम सक्रिय मामले हैं. 13 हफ्तों से लगातार वीकली पॉजिटिविटी रेट 3% से कम है. स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि कोशिश है कि पॉजिटिविटी रेट घटे. 18 जिलों की वीकली पॉजिटिविटी रेट 5 से 10% है. वहीं, 30 जिलों में वीकली पॉजिटिविटी रेट 10% से ज्यादा है.

देश में जारी टीकाकरण अभियान की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि देश में 18 साल से ऊपर 25% लोगों को दोनों डोज लग चुकी है. 18 साल से ऊपर 69% लोगों को पहली डोज दी जा चुकी है. 99% हेल्थ केयर को पहली डोज दी जा चुकी है, वहीं 85% को दूसरी डोज लग चुकी है.  

6 राज्य और केंद्र शासित राज्यों में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज 100 फीसद लोगों लग चुकी है.10 राज्यों में 80 फीसद से ज्यादा लोग वैक्सीन की पहली डोज लगवा चुके हैं. 15राज्यों में 60 से 80 फीसद लोग वैक्सीन की पहली डोज ले चुके हैं. 7 राज्यों में 60% से कम लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग पाई है. उन्होंने कहा कि अर्बन इलाकों में 26.95 करोड़ टीके की डोज प्रशासित की जा चुकी है. वहीं, ग्रामीण इलाकों में 49.31 करोड़ वैक्सीन की डोज प्रशासित हुई हैं.

यह भी पढ़ेंः

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बेंगलुरु का एक रेसिडेंशियल स्कूल कोरोना का क्लस्टर बना