कोरोना का क्लस्टर बना बेंगलुरु का एक रेसिडेंसियल स्कूल, 60 बच्चे हुए संक्रमित

बेंगलुरु का एक रेसिडेंशियल स्कूल (Bengaluru Boarding) कोरोना (Coronavirus) का क्लस्टर बन गया है. यहां पढ़ने वाले तक़रीबन 500 छात्र-छात्राओं में से 60 को कोरोना पॉजिटिव (60 Students Test Positive) पाया गया है.

बेंगलुरु:

बेंगलुरु का एक रेसिडेंशियल स्कूल (Bengaluru Boarding) कोरोना (Coronavirus) का क्लस्टर बन गया है. यहां पढ़ने वाले तक़रीबन 500 छात्र-छात्राओं में से 60 को कोरोना पॉजिटिव (60 Students Test Positive) पाया गया है. स्कूल 20 अक्टूबर तक बंद कर दिया गया है और अभिभावक बच्चों को घर ले जा रहे हैं. कर्नाटक के अलावा सीमावर्ती तमिलनाडु से भी काफी छात्र-छात्राएं इस रेसिडेंशियल स्कूल में पढ़ने आते हैं. अब 60 छात्रों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.

इस स्कूल में तक़रीबन 500 छात्र-छात्राएं हैं. एक छात्रा बीमार पड़ी तो सबकी जांच हुई, शिक्षक और दूसरे कर्मचारियों की भी. 60 में से 2 में लक्षण पाए गए जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है बाक़ी को वहां क्वारन्टीन कर दिया गया है. दूसरी छात्राएं घर लौट रही हैं.


हाल ही में कर्नाटक सरकार ने 100 फ़ीसदी छात्रों के साथ स्कूल खोलने की इजाज़त दी है- छठी की क्लास भी. हाल ही में राज्य सरकार ने मिडिल स्कूल को भी खोलने का फैसला किया और इसके फौरन बाद अब यह कि स्कूल कोरोना का क्लस्टर बन गया. ऐसे में अभिभावक भी अपने बच्चों को स्कूल भेजने से पहले कई बार सोचेंगे और शायद सरकार को भी अपने फैसले पर दोबारा विचार करना होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* कोरोना वायरस संक्रमण का प्रकोप लंबे समय तक रह सकता है : WHO
* बुजुर्गों पर भारी रहा लॉकडाउन, आत्महत्या के मामले 31% बढ़े
* हेल्थवर्कर्स को मिले कोरोना टीके का तीसरा डोज, खत्म हो रही है एंटीबॉडी : IMA पुणे
* तकनीकी सवालों में घिरी Covaxin को WHO की मंजूरी, होगी और देरी : सूत्र