एक करोड़ का कर्ज उतारने के लिए पूर्व मैनेजर बैंक में लूट के इरादे से घुसा, महिला अधिकारी को चाकू से गोदा

आरोपियों ने दोनों महिलाओं से जेवर और नकदी हवाले करने को कहा. इसके बाद जब वे भागने की कोशिश करने लगे दोनों ने शोर मचाकर लुटेरों को रोकने की कोशिश की. इसके बाद आरोपियों ने दोनों को चाकू से गोद डाला. लोगों ने पीछा करके अनिल दूबे को पकड़ लिया, हालांकि उसका साथी मौके से फरार हो गया.

एक करोड़ का कर्ज उतारने के लिए पूर्व मैनेजर बैंक में लूट के इरादे से घुसा, महिला अधिकारी को चाकू से गोदा

बैंक का पूर्व मैनेजर लूट के इरादे से बैंक में घुसा, महिला अधिकारी को चाकू घोंपा, हुआ अरेस्ट

मुंबई:

Murder and Loot in ICICI Bank: महाराष्ट्र के विरार स्थित एक प्राइवेट बैंक की महिला अधिकारी की चाकू मारकर हत्या कर दी गई जबकि उनकी एक महिला सहयोगी घायल हुई हैं. हमला दो लोगों ने किया था, जिसमें से एक बैंक का पूर्व मैनेजर रह चुका है. पुलिस ने ये जानकारी दी. घटना गुरुवार रात करीब साढ़े आठ बजे आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) के विरार वाली शाखा में हुई. पुलिस के मुताबिक- जिस वक्त घटना हुई उस समय बैंक में काम करने वाली ये दो महिलाएं ही मौजूद थीं. सीनियर इंस्पेक्टर सुरेश वरदे ने बताया कि इस मामले में दो आरोपियों में से एक अनिल दूबे को गिरफ्तार कर लिया गया है. वह इस बैंक का पूर्व मैनेजर  है. 

उन्होंने कहा कि दोनों आरोपियों ने बैंक में एंट्री की और वहां काम कर रहीं बैंक की असिस्टेंट मैनेजर योगिता वर्तक और कैशियर श्रद्धा को चाकू की नोक पर धमकी दी.  घटना गुरुवार रात करीब साढ़े आठ बजे आईसीआईसीआई बैंक की विरार की पूर्वी शाखा में हुई. उन्होंने कहा कि उस समय बैंक में काम करने वाले दो ही व्यक्ति मौजूद थे.

आरोपियों ने दोनों महिलाओं से जेवर और नकदी हवाले करने को कहा. इसके बाद जब वे भागने की कोशिश करने लगे दोनों ने शोर मचाकर लुटेरों को रोकने की कोशिश की. इसके बाद आरोपियों ने दोनों को चाकू से गोद डाला. लोगों ने पीछा करके अनिल दुबे को पकड़ लिया, हालांकि उसका साथी मौके से फरार हो गया. लोगों ने योगिता वर्तक को बैंक के अंदर खून से लथपथ पड़ा पाया, जबकि उसकी साथी बुरी तरह घायल थीं. पुलिस ने कहा कि दोनों को अस्पताल ले जाया गया जहां योगिता को मृत घोषित कर दिया गया.


विरार थाने के वरिष्ठ निरीक्षक सुरेश वरदे ने बताया कि मामले में गिरफ्तार दो आरोपियों में से एक अनिल दूबे बैंक की उसी शाखा का पूर्व मैनेजर है जहां ये घटना हुई है.  पकड़ा गया आरोपी अनिल दुबे बैंक की उसी शाखा के पूर्व मैनेजर है, जहां ये घटनाक्रम हुआ. उसने 1 करोड़ का कर्ज लिया था और उसी को चुकाने के लिए उसने बैंक को लूटने की साजिश रची. वह फिलहाल किसी और बैंक के साथ काम करता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आरोपी के खिलाफ विरार थाने में आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 307 (हत्या का प्रयास) और 397 (डकैती, मौत का प्रयास या गंभीर चोट) के तहत मामला दर्ज किया गया है.   पुलिस ने अनिल दुबे के साथी की तलाश शुरू कर दी है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)