'केजरीवाल के साथ जुड़ना बड़ी भूल थी' : AAP के तीन पूर्व नेताओं की पार्टी का कांग्रेस में विलय

राहुल गांधी से तु्गलक लेन स्थित निवास पर मुलाकात के बाद खैरा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, 'AAP केवल वन मैन शो है और केजरीवाल के अलावा पार्टी में कुछ नहीं है.'

'केजरीवाल के साथ जुड़ना बड़ी भूल थी' : AAP के तीन पूर्व नेताओं की पार्टी का कांग्रेस में विलय

सुखपाल सिंह खैरा की पंजाब एकता पार्टी ने कांग्रेस में विलय का ऐलान किया है

खास बातें

  • खैरा की पंजाब एकता पार्टी का कांग्रेस में विलय हुआ
  • कहा, 'आप' वन मैन शो, इसमें केजरीवाल के अलावा कुछ नहीं
  • खैरा के साथ दो विधायक जगदेव सिंह और पिरमल सिंह भी थे
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) के पूर्व नेता सुखपाल सिंह खैरा (Sukhpal Singh Khaira) की अगुवाई वाली पंजाब एकता पार्टी ने कांग्रेस में विलय करने की घोषणा की है. खेरा और दो अन्‍य नेताओं ने गुरुवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी. पंजाब विधानसभा में पूर्व में विपक्ष के नेता रहे खैरा ने कहा कि AAP एक व्‍यक्ति की पार्टी (one-man show) है और वर्ष 2015 में कांग्रेस छोड़कर अरविंद केजरीवाल की पार्टी ज्‍वॉइन करना उनकी बड़ी गलती थी.विधायक खैरा के साथ बठिंडा जिले के मउर (Maur) के विधायक जगदेव सिंह और बरनाला जिले के भादौर (Bhadaur) से विधायक पिरमल सिंह खालसा भी थे. राहुल गांधी की मौजूदगी में इन्‍होंने औपचारिक तौर पर कांग्रेस ज्‍वॉइन की. इस मौके पर कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत और कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला भी मौजूद थे.


पंजाब में अंदरूनी राजनीति के लिए जनता की अनदेखी, ये कांग्रेस का बड़ा पाप है : प्रकाश जावड़ेकर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राहुल गांधी से तु्गलक लेन स्थित निवास पर मुलाकात के बाद खैरा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, 'AAP केवल वन मैन शो है और केजरीवाल के अलावा पार्टी में कुछ नहीं है.' उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्‍व में विश्‍वास जताते हुए वे अपनी पुरानी पार्टी में शामिल हो रहे हैं. खैरा और ये दो विधायक गत 3 जून को मुख्यमंत्री अमरिंदर की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए थे. ये तीनों पिछले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के टिकट पर निर्वाचित हुए थे, हालांकि बाद में पार्टी नेतृत्व से कथित टकराव के कारण तीनों को आप से बाहर कर दिया गया. कांग्रेस छोड़ने के बाद, खैरा दिसंबर 2015 में आप में शामिल हो गए थे। वह 2017 में आप के टिकट पर वह भोलथ विधानसभा सीट से निर्वाचित हुए थे. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)