कोरोना टीकाकरण के लिए यहां होगा रजिस्ट्रेशन, आधार या इनमें से एक ID जरूरी, जानें गाइडलाइन

60 साल से ऊपर और 45 साल से 59 साल के बीच जो लोग गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं, उनका वैक्सीनेशन 1 मार्च से होगा. राज्यों से कहा गया है कि जो स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स टीका लगवाने से छूट गए हैं वो भी वैक्सीनेशन के लिए सेंटर चुन सकते हैं.

कोरोना टीकाकरण के लिए यहां होगा रजिस्ट्रेशन, आधार या इनमें से एक ID जरूरी, जानें गाइडलाइन

Corona Vaccination Registration : टीकाकरण केंद्र में भी करा सकते हैं पंजीकरण

नई दिल्ली:

वरिष्ठ नागरिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के गंभीर रोगों से ग्रसित लोगों के लिए 1 मार्च से कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) शुरू हो जाएगा, लेकिन इसके तौर तरीके क्या होंगे और क्या लोग इसके हकदार बन सकते हैं. टीकाकरण करवाने वालों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन जारी की गई है.

सभी राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की शुक्रवार को अहम बैठक हुई. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बैठक की अध्यक्षता की. इस बैठक में Cowin-2.0 ऐप को लेकर भी चर्चा हुई. बैठक में बताया गया कि आने वाले वक्त में 60 साल से ऊपर और 45 साल से 59 साल के बीच जो लोग गम्भीर बीमारी से पीड़ित हैं, उनके वैक्सीनेशन को लेकर योजना बनाई गई हैं.राज्यों से कहा गया है कि जो स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स टीका लगवाने से छूट गए हैं वो भी वैक्सीनेशन के लिए सेंटर चुन सकते हैं.

इनमें से एक पहचानपत्र जरूरी
1-आईडी प्रूफ के तौर पर आधार कार्ड
2-चुनाव पहचान पत्र, 3-ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के पहले
फोटो आईडी में आपके पास क्या ये बताना जरूरी है। (अगर आधार या चुनाव पहचान पत्र न हो)

बीमार लोगों के लिए मेडिकल सर्टिफिकेट आवश्यक
 45 से 49 साल के कोमॉरबिड (कई रोगों से ग्रसित) मरीजों को रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर्स से सर्टिफिकेट लेना होगा.

ऐसे करें कोविन पर रजिस्ट्रेशन
टीकाकरण के दायरे में आने वाले Advance Self Registration के तहत Cowin 2.0 पोर्टल डाउनलोड करके और आरोग्य सेतु के ज़रिये अपना पंजीकरण करा सकते हैं. सरकारी और प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर की जानकारी उपलब्ध होगी. इन केंद्रों में टीकाकरण के समय की भी जानकारी मिलेगी. यहां से लोग अपॉइंटमेंट ले सकते हैं

ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन
जो लोग पहले से Appointment नही ले पाएंगे वो सीधा निर्धारित वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं और टीका लगवा सकते हैं.


पंजीकरण के लिए मदद करेंगे ये कर्मी
जो लोग खुद से पंजीकरण नहीं कर सकते हैं, उनके लिए आशा, ANM, पंचायती राज के प्रतिनिधि और women self group किसी खास तारीख के लिए टारगेट ग्रुप यानी टीकाकरण के लिए पात्र लोगों को इकट्ठा करेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


निजी अस्पतालों में भी होगा टीकाकरण
टीकाकरण के लिए प्राइवेट हेल्थ फैसिलिटीज या केंद्रों के लिए गाइडलाइन भी तैयार की गई है. इसके मुताबिक, उनके पास पर्याप्त जगह होनी जरूरी है.वैक्सीन स्टोर करने के लिए कोल्ड चेन और उपकरण हों. उनके अपना प्रशिक्षित स्टाफ और अपनी टीम हो. उनके पास अपनी मैनेजमेंट सुविधा हो ताकि अगर कोई प्रतिकूल लक्षण (Adverse event following immunization) दिखे तो टीका लेने वाले को तुरंत इलाज मुहैया कराया जा सके.