किसान प्रदर्शन के दौरान हिंसा के बाद राकेश टिकैत लखीमपुर खीरी के लिए रवाना

राकेश टिकैत ने ट्विटर पर एक कथित वीडियो संदेश पोस्ट किया जिसमें उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसान प्रदर्शन के बाद लौट रहे थे, जब उन पर हमला हुआ. कुछ पर गाड़ी चढ़ा दी गई. उन पर गोलियां भी चलाई गईं. घटना में कई लोग मारे गए हैं.

किसान प्रदर्शन के दौरान हिंसा के बाद राकेश टिकैत लखीमपुर खीरी के लिए रवाना

राकेश टिकैत ने एक वीडियो संदेश में कहा कि किसानों के प्रदर्शन से लौटते समय हमला हुआ. (फाइल)

नई दिल्ली :

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) रविवार को अपने अनेक समर्थकों के साथ लखीमपुर खीरी  (Lakhimpur Kheri) के लिए रवाना हो गए. वहां पर किसानों के प्रदर्शन (Farmers Protest) के दौरान आठ लोगों की मौत हो गई. दिल्ली-गाजियाबाद सीमा पर गाजीपुर से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना होने से पहले भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता टिकैत ने हिंसा के दौरान 'कई किसानों' के मारे जाने की आशंका जताई. हिंसा में दो वाहनों को भी कथित तौर पर आग लगा दी गई. 

बताया जा रहा है कि लखीमपुर खीरी में प्रदर्शनकारियों को कथित तौर पर दो एसयूवी वाहनों से कुचले जाने के बाद हिंसा भड़क गई थी और इस दौरान गोलीबारी भी हुई थी. 

टिकैत ने ट्विटर पर एक कथित वीडियो संदेश पोस्ट किया जिसमें उन्होंने कहा, ‘‘लखीमपुर में किसान प्रदर्शन के बाद लौट रहे थे, जब उन पर हमला हुआ. कुछ पर गाड़ी चढ़ा दी गई, उन पर गोलियां भी चलाई गईं. हमें अब तक मिली सूचना के मुताबिक घटना में कई लोग मारे गए हैं.''

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में केंद्र के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों को कथित तौर पर दो वाहनों से कुचले जाने के बाद हिंसा भड़क गई. प्रदर्शनकारी रविवार को यहां यहां तिकोनिया-बनबीरपुर मार्ग पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे. 

अपुष्ट खबरों के मुताबिक, घटना के बाद नाराज प्रदर्शनकारियों ने कथित तौर पर दो वाहनों को जबरन रोका और उन्हें आग लगा दी. उन्होंने कथित तौर पर कुछ यात्रियों के साथ मारपीट भी की. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* लखीमपुर खीरी हिंसा : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी किसानों से मिलने के लिए पहुंचीं
* आम आदमी पार्टी ने की लखीमपुर खीरी हिंसा की सीबीआई जांच कराने की मांग
* यूपी के डिप्टी सीएम ने कहा- किसानों का भेष धरकर आंदोलन करने वाले कभी कामयाब नहीं होंगे
* HEADING HERE