लॉकडाउन के दौरान बेरोजगार हुए लोगों के पुनर्वास के प्रयास किये जा रहे हैं : नीतीश कुमार

‘‘यह सुनिश्चित करने का हमारा संकल्प रहा है कि आजीविका संबंधी चिंताओं के कारण हमारे लोगों को फिर से पलायन करने के लिए मजबूर न होना पड़े. यदि कोई अपनी मर्जी से ऐसा करना चाहता है तो यह उसकी व्यक्तिगत पसंद का मामला है.’’

लॉकडाउन के दौरान बेरोजगार हुए लोगों के पुनर्वास के प्रयास किये जा रहे हैं : नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए लगाये गये लॉकडाउन (Coronavrius Lockdown) के मद्देनजर किसी दूसरे स्थान पर नौकरी गंवाकर राज्य में लौटे लोगों के आर्थिक रूप से पुनर्वास के प्रयास किए जा रहे हैं. कुमार ने पश्चिमी चंपारण जिले की यात्रा के दौरान यह बात कहीं. उन्होंने जिला औद्योगिक नवाचार योजना के तहत बनाये गये ‘‘स्टार्ट अप जोन'' का निरीक्षण भी किया.

उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘यह सुनिश्चित करने का हमारा संकल्प रहा है कि आजीविका संबंधी चिंताओं के कारण हमारे लोगों को फिर से पलायन करने के लिए मजबूर न होना पड़े. यदि कोई अपनी मर्जी से ऐसा करना चाहता है तो यह उसकी व्यक्तिगत पसंद का मामला है.''

नीतीश ने भाजपा को गठबंधन धर्म की 'अटल सहिंता' के पालन की नसीहत क्यों दी?


प्रतिनिधिमंडल ने जिले में प्रसिद्ध पर्यटक स्थल वाल्मीकि नगर तक संपर्क को सुधारने वाली सड़क के निर्माण कार्यों का भी जायजा लिया. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमारी कोशिश है कि वाल्मीकि नगर को ‘इको टूरिज्म हब' के रूप में विकसित किया जाए. हम इस जगह पर बच्चों को आते देखना पसंद करेंगे. इस उद्देश्य को प्राप्त करने में इस सड़क से बहुत मदद मिलेगी.''

किसानों को केंद्र सरकार से बात करनी चाहिए : नीतीश कुमार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)