मशहूर अर्थशास्‍त्री अरविंद सुब्रमणियन ने अशोका यूनिवर्सिटी से प्रोफेसर पद से दिया इस्तीफा

वित्त मंत्रालय में पूर्व में मुख्य आर्थिक सलाहकार रहे सुब्रमणियन ने जुलाई 2020 में इस संस्थान में अर्थशास्त्र विभाग में प्रोफेसर के तौर पर काम शुरू किया था. 

मशहूर अर्थशास्‍त्री अरविंद सुब्रमणियन ने अशोका यूनिवर्सिटी से प्रोफेसर पद से दिया इस्तीफा

अरविंद सुब्रमणियन वित्त मंत्रालय में मुख्य आर्थिक सलाहकार भी रह चुके हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मशहूर अर्थशास्त्री अरविंद सुब्रमणियन (Arvind Subramanian) ने सोनीपत (हरियाणा) में अशोका यूनिवर्सिटी (Ashoka University) के प्रोफेसर के पद से इस्तीफा दे दिया है. राजनीतिक विश्लेषक प्रताप भानु मेहता के इस संस्थान से निकलने के दो दिन बाद ही उन्होंने यह कदम उठाया है. यूनिवर्सिटी के एक वरिष्ठ प्राध्यापक ने कहा, ‘‘डॉ. सुब्रमणियन ने इस्तीफा दे दिया है.'' वित्त मंत्रालय में पूर्व में मुख्य आर्थिक सलाहकार रहे सुब्रमणियन ने जुलाई 2020 में इस संस्थान में अर्थशास्त्र विभाग में प्रोफेसर के तौर पर काम शुरू किया था. इस संबंध में अशोका यूनिवर्सिटी ने भेजे गए सवालों का जवाब नहीं दिया.


PM की आर्थिक सलाहकार परिषद ने अरविंद सुब्रह्मण्यम के शोध-पत्र को खारिज किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि सुब्रमणियन को वित्त मंत्रालय में 16 अक्टूबर 2014 को साल के लिये मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया था और 2017 में उन्हें कार्य विस्तार भी दिया गया था. उनका कार्यकाल मई 2019 तक के लिये बढ़ाया गया था लेकिन उन्होंने अपने अध्यापन कार्य से फिर जुड़ने के लिए आर्थिक सलाहकार का पद छोड़ दिया था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)