दीप सिद्धू और उसके साथी को लाल किला ले गई SIT, 26 जनवरी की घटना पर कर रही पूछताछ

26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसक भीड़ हाथों में लाठी-डंडे और तलवार लिए लाल किला परिसर में घुस गई थी और वहां सुरक्षा में तैनात कई पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया था. बाद में उपद्रवियों ने लाल किले की प्राचीर पर चढ़कर तिरंगे के बगल में धार्मिक झंडा लहरा दिया था.

दीप सिद्धू और उसके साथी को लाल किला ले गई SIT, 26 जनवरी की घटना पर कर रही पूछताछ

26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसक भीड़ हाथों में लाठी-डंडे और तलवार लिए लाल किला परिसर में घुस गई थी.

नई दिल्ली:

गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन लाल किला हिंसा (Red Fort Violence) मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच मुख्य आरोपी दीप सिद्धू को आज लाल किला परिसर लेकर पहुंची है. पुलिस के अधिकारी उन दोनों से घटनाक्रम का पूरा विवरण ले रही है. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की SIT टीम लाल किला हिंसा के दोनों आरोपी दीप सिद्धू और इकबाल सिंह को लाल किला ले जाकर घटना की शुरुआत से लेकर आखिर तक हुई घटना का सीक्वेंस पूछ रही है. मसलन,  किस रास्ते से प्रदर्शनकारी लाल किला में आए थे? लाल किले की प्राचीर पर कैसे चढ़े थे?

एसआईटी तमाम ऐसे घटनाक्रम का विवरण तैयार कर रही है. इसी बावत इन दोनों आरोपियों को घटनास्थल पर ले जाकर पूछताछ करेगी. सूत्रों ने बताया कि दिन में 11 बजे के बाद कभी भी आरोपियों को लाल किले पर ले जाया जा सकता है.

गणतंत्र दिवस हिंसा : दिल्ली पुलिस ने परी NGO की योगिता से ट्वीट किए 2 VIDEO पर मांगा जवाब


बता दें कि 26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसक भीड़ हाथों में लाठी-डंडे और तलवार लिए लाल किला परिसर में घुस गई थी और वहां सुरक्षा में तैनात कई पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया था. बाद में उपद्रवियों ने लाल किले की प्राचीर पर चढ़कर तिरंगे के बगल में धार्मिक झंडा लहरा दिया था. इस हिंसा में दिल्ली पुलिस के कई जवान घायल हुए थे. सीसीटीवी फुटेज में दीप सिद्धू औप उसके साथी लाल किले पर धार्मिक झंडा फहराते नजर आए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली : टीकरी बॉर्डर पर आंदोलनकारियों की भीड़ ने किया पुलिसकर्मी पर हमला, अस्पताल में भर्ती