दिल्ली : कोरोना से जान गंवाने वाले पहले पुलिसकर्मी के परिवार को अभी तक मुआवजे का इंतजार

सोनीपत के अमित, जो दिल्ली पुलिस में कॉन्स्टेबल थे, उनकी मौत कोविड से हो गई थी. दिल्ली पुलिस में कोविड से जान गंवाने वाले वो पहले पुलिसकर्मी थे. अभी तक उनके परिवार को मुआवजा नहीं मिला है.

दिल्ली : कोरोना से जान गंवाने वाले पहले पुलिसकर्मी के परिवार को अभी तक मुआवजे का इंतजार

कॉन्स्टेबल अमित की मौत कोविड से हुई थी, परिवार को मुआवजे का इंतजार.

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus : कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 से दिल्ली पुलिस में कई पुलिसकर्मियों की मौत हुई, जिसके बाद दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने इन्हें मुआवजा देने की घोषणा की थी, लेकिन अभी तक किसी भी पीड़ित परिवार को मुआवजा नहीं मिला है. आंकड़ों पर नजर डालें तो दिल्ली पुलिस के 33 कर्मियों की कोरोना से जान गई है, लेकिन इनमें से किसी भी परिवार को मुआवजे की रकम नहीं मिली है. यहां तक कि पुलिस फोर्स में कोविड से हुई जो पहली मौत थी, उस पीड़ित परिवार तक को अभी तक मुआवजा नहीं मिला है.

दिल्ली पुलिस में कोरोना से हुई पहली मौत के मामले में मृतक का परिवार अब भी मुआवज़े का इंतज़ार कर रहा है. बता दें कि सोनीपत के रहने वाले कॉन्स्टबेल अमित की मौत कोरोना से हुई थी. वो दिल्ली पुलिस के सबसे पहले पुलिसकर्मी थे जिनकी मौत कोरोना से हुई थी. दिल्ली सरकार ने अमित के परिवार को 1 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया था.

यह भी पढ़ें : कुछ हेल्थकेयर वर्कर्स का वैक्सीन लेने से इनकार परेशान करने वाला : सरकार

लेकिन अमित के परिवार के मुताबिक, आज तक उन्हें सरकार की तरफ से मुआवजा नहीं मिला है. अमित के साले रवि ने NDTV से कहा कि मुआवज़े की फ़ाइल का पता नहीं चल रहा है.

अमित के जाने के बाद उनकी पत्नी ने उनकी बेटी को जन्म भी दिया है. अमित की पत्नी ने 15 जनवरी को बेटी को जन्म दिया है, जिसका नाम एनी रखा गया है. परिवार के मुताबिक, अमित की इच्छा थी कि अगर उसे बेटी होती है तो उसका नाम एनी रखा जाए. अमित के एक 4 साल का बेटा विहान भी है.


अमित के जाने के दुख के बीच उनका परिवार सरकारी लापरवाही से भी गुजर रहा है.

को-वैक्सीन: भारत सरकार और भारत बायोटेक में विरोधाभास क्यों?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com