'लानत है तुम्हारी सरकार पर...' गन्ना किसानों के बहाने योगी आदित्यनाथ पर भड़के अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, "हमने दिल्ली चुनाव से पहले कहा था कि बिजली कंपनियों को ठीक कर देंगे और ये भी कहा था कि 24 घंटे बिजली देंगे. हमने 5 साल में बिजली कंपनियों को ठीक कर दिया. आज दिल्ली में 24 घंटे बिजली भी मिलती है और बिजली की बिल ज़ीरो आता है."

'लानत है तुम्हारी सरकार पर...' गन्ना किसानों के बहाने योगी आदित्यनाथ पर भड़के अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने कहा, "योगी आदित्यनाथ,, अगर तुम गन्ना किसानों को भुगतान नहीं करा सकते तो लानत है तुम्हारी सरकार पर."

मेरठ:

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज मेरठ में किसान महापंचायत (Kisam Mahapanchayat) की और किसान आंदोलन I(Farmers Protest) के समर्थन में एकजुटता दिखाई. इस मौके पर केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की आलोचना करते हुए कहा कि यूपी में गन्ना किसानों को दो-दो साल से बकाया नहीं मिला है. केजरीवाल ने कहा, "योगी जी से पूछना चाहता हूं कि क्या मजबूरी है कि तुम इन मिल मालिकों को ठीक नहीं कर सकते?"
 
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, "हमने दिल्ली चुनाव से पहले कहा था कि बिजली कंपनियों को ठीक कर देंगे और ये भी कहा था कि 24 घंटे बिजली देंगे. हमने 5 साल में बिजली कंपनियों को ठीक कर दिया. आज दिल्ली में 24 घंटे बिजली भी मिलती है और बिजली की बिल ज़ीरो आता है."

मेरठ: किसान महापंचायत में केजरीवाल की हुंकार, बोले- करो या मरो की लड़ाई है, डेथ वारंट हैं तीनों कानून

इसके बाद, अरविंद केजरीवाल ने कहा, "योगी आदित्यनाथ,, अगर तुम गन्ना किसानों को भुगतान नहीं करा सकते तो लानत है तुम्हारी सरकार पर." आप नेता ने कहा, "यूपी में भी अच्छी नियत वाली सरकार चाहिए. मैं यह कह कर जा रहा हूं कि अगर अच्छी नियत वाली सरकार आ गई तो आपलोग मिल में गन्ने छोड़ कर आओगे और पैसा आपके खाते में आपके घर पहुंचने से पहले आ जाएगा. ये वादा है आपसे."

केंद्र की बीजेपी सरकार को भी केजरीवाल ने आड़े हाथों लिया और बीजेपी नेताओं पर झूठ बोलने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि महंगाई कम करने की बात करने वालों ने डीज़ल , पेट्रोल, रसोई गैस के दाम बढ़ा दिए. उन्होंने कहा, मैं जब से सरकार में गया हूं, मुझे एक बात पता चली है कि सरकार के पास पैसे की कमी नहीं है, नियत की कमी है."

"हिम्मत है तो करो..." : 'मन की बात' पर राहुल गांधी का PM मोदी को चैलेंज

उन्होंने कहा, "अच्छी नियत की सरकार ले आओ.. डीज़ल, गैस, पेट्रोल के दाम कम हो जाएंगे. खाद की कट्टे की कीमत कम हो जाएंगी. अच्छी नियत वाली सरकार ले आओ जैसे दिल्ली में बिजली के बिल माफ़ हो गए, हम यहां भी माफ़ कर देंगे.  ट्यूबवेल की बिजली की क्या बात है?"

केजरीवाल ने कहा कि अगर सरकार पूंजिपतियों के 8 लाख करोड़ रूपये माफ कर सकती है तो किसानों के लिए कुछ क्यों नहीं करते? उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों का मात्र 18000 करोड़ रुपया बकाया है. इसे दिलाने के लिए सरकार की नियत ठीक नहीं है. केजरीवाल ने कहा कि किसानों का आंदोलन बिल्कुल पवित्र आंदोलन है.


संयुक्त किसान मोर्चा ने दिल्ली पुलिस आयुक्त के नोटिसों का जवाब भेजा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


किसानों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि मेरे देश का किसान बहुत दुखी है. 95 दिनों से हमारे किसान भाई अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ धरने पर हैं. 250 से ज़्यादा किसान भाइयों की शहादत हुई है, लेकिन बीजेपी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है. पिछले 70 साल में किसानों को सिर्फ़ धोखा मिला है.