दिल्ली: 100 साल की महिला ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, कहा- किसी तरह का दर्द महसूस नहीं हुआ

सिकंद ने कहा, 'उन्होंने मुझसे कहा कि टीका लगवाने पर मुझे किसी तरह का दर्द महसूस नहीं हुआ. उन्हें यह भी नहीं पता चला कि उनके किस हाथ पर टीका लगाया गया.'

दिल्ली: 100 साल की महिला ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, कहा- किसी तरह का दर्द महसूस नहीं हुआ

दिल्ली में 100 वर्षीय महिला ने कोविड-19 रोधी टीका लगवाया (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक ली
  • 'महामारी के दौरान 100 साल की हुईं'
  • 'यह भी नहीं पता चला कि किस हाथ पर टीका लगाया गया'
नई दिल्ली:

दिल्ली में रहने वाली 100 साल की महिला कमला दास ने कोविड-19 वैक्सीन (Corona Vaccine) की पहली खुराक ली है. उनकी बेटी ने यह जानकारी दी. सिंध में पैदा हुईं दास पिछले साल सितंबर में 100 साल की हुई थीं जब कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी अपने चरम पर थी.  दिवंगत मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) चंद एन दास की पत्नी कमला दास ने बृहस्पतिवार को टीका लगवाया और कहा कि उन्हें किसी तरह का दर्द महसूस नहीं हुआ. 

दास की छोटी बेटी ज्योतिका सिकंद ने कहा, 'मेरी मां महामारी के दौरान 100 साल की हुईं और हमने 24 सितंबर से ही मेहमानों को बुलाकर जश्न मनाना शुरू कर दिया था, जो तीन दिन तक चला क्योंकि उस समय भीड़ इकट्ठा होने की अनुमति नहीं थी. मेरे भाई-बहनों को डर था कि वह कोविड-19 की चपेट में आ सकती हैं, लेकिन हमने सोचा कि उनकी सेहत अच्छी है और हर कोई अपने जीवन का 100वां जन्मदिन नहीं देख पाता. लिहाजा, हमने उनके इस जन्मदिन को खास बनाने का फैसला किया.' 

तीन सितंबर 1920 को जन्मी दास ने यहां बी एल कपूर अस्पताल में टीका लगवाया. इससे एक दिन पहले, 1920 में जन्में बृज किशोर गुप्ता ने भी यहीं पर कोविशील्ड टीके की पहली खुराक ली थी. अस्पताल के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. 

सिकंद ने कहा, 'उन्होंने मुझसे कहा कि टीका लगवाने पर मुझे किसी तरह का दर्द महसूस नहीं हुआ. उन्हें यह भी नहीं पता चला कि उनके किस हाथ पर टीका लगाया गया.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: कोविड वैक्सीन भेजने पर क्रिस गेल ने PM मोदी का ऐसे किया शुक्रिया



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)