नगालैंड की घटना की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश, सेना ने बताया 'अफसोसजनक'

उग्रवादियों की संभावित गतिविधि पर एक गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए सुरक्षा बलों ने तिरु-ओटिंग रोड पर घात लगाने की योजना बनाई थी, लेकिन यह पूरी तरह से विफल हो गया.

सेना (Army) ने म्यांमार की सीमा से लगे नगालैंड (Nagaland) के मोन जिले के ओटिंग गांव में एक सुरक्षाबलों के अभियान में "दुर्भाग्यपूर्ण तरीके" से नागरिकों की मौत पर गहरा खेद व्यक्त किया है और कहा कि मामले की "उच्चतम स्तर" पर जांच की जाएगी. सेना ने कहा कि इस ऑपरेशन में एक जवान की भी मौत हुई है. सेना ने मामले की जांच के लिए कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिए हैं.

उग्रवादियों की संभावित गतिविधि पर एक गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए सुरक्षा बलों ने तिरु-ओटिंग रोड पर घात लगाने की योजना बनाई थी, लेकिन यह पूरी तरह से विफल हो गया.

सेना ने एक बयान में कहा, "घटना और उसके बाद की हिंसा पर भारी खेद है. दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से ग्रामीणों की जान जाने के कारणों की जांच उच्चतम स्तर पर की जा रही है और कानून के अनुसार उचित कार्रवाई की जाएगी." बयान में कहा गया, "इस घटना में सुरक्षा बलों को गंभीर चोटें आई हैं, जिसमें एक सैनिक भी शामिल है, जिसकी मौत हो गई."

नगालैंड: सुरक्षाबलों के ऑपरेशन में 13 ग्रामीण और एक जवान की मौत

मोन क्षेत्र नागा समूह NSCN(K) और  उल्फा का गढ़ रहा है. यह घटना ऐसे वक्त में हुई है, जब राज्य "हॉर्नबिल फेस्टिवल" मनाने जा रहा है, और कई राजनयिक पहले से ही इस क्षेत्र में मौजूद हैं.

राज्य के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो ने इस हादसे पर दुख जताया है और लोगों की मौत पर शोक व्यक्त कर लोगों से शांति की अपील की है. उन्होंने कहा है कि एक विशेष जांच दल को मामले की जांच करेगी. मुख्यमंत्री रियो ने ट्वीट किया, "ओटिंग, मोन में नागरिकों की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण और अत्यंत निंदनीय घटना है. शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं. उच्च स्तरीय एसआईटी मामले की जांच करेगी और देश के कानून के अनुसार न्याय होगा. समाज के सभी वर्गों से शांति की अपील है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया: "नागालैंड के ओटिंग में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर दुखी, हूं. मैं उन लोगों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने अपनी जान गंवाई है. शोक संतप्त परिवारों को न्याय सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित एक उच्च स्तरीय एसआईटी इस घटना की पूरी जांच करेगी."