Cryptocurrency Investment : Bitcoin या दूसरे किसी क्रिप्टो में निवेश करना चाहते हैं? जान लें पहले ये बातें

Bitcoin Investment : डिजिटल करेंसी की संभावनाएं अपार दिख रही हैं. अगर आप भी इस 'वर्चुअल मनी' में निवेश करने का सोच रहे हैं या इसमें दिलचस्पी रखते हैं तो पहले तो आपको कुछ चीजें जान लेनी चाहिए.

Cryptocurrency Investment : Bitcoin या दूसरे किसी क्रिप्टो में निवेश करना चाहते हैं? जान लें पहले ये बातें

Bitcoin के अलावा क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया में और भी कई विकल्प हैं,

नई दिल्ली:

2021 क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency Value) का साल साबित हो रहा है. पहली बार किसी क्रिप्टोकरेंसी को दुनिया के किसी देश- अल सल्वाडोर- ने मान्यता देने की शुरुआत की है, वहीं सबसे पुरानी और सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी- बिटकॉइन- (Bitcoin Price Today) के अलावा और भी दूसरी कई क्रिप्टोकरेंसी Ethereum, Litecoin, Dogecoing, RIpple वगैरह बाजार में पकड़ बना चुकी हैं. हां, बिटकॉइन में पिछले दिनों बड़ी गिरावट आई थी, लेकिन इसमें धीरे-धीरे सुधार आ रहा है. भारत में भी इसपर बड़ी बहस है, लेकिन बाजार बन चुका है.

क्रिप्टोकरेंसी की स्थिरता और सुरक्षा की बहस सबसे बड़ी है, लेकिन डिजिटल करेंसी की संभावनाएं अपार दिख रही हैं. अगर आप भी इस 'वर्चुअल मनी' में निवेश करने का सोच रहे हैं या इसमें दिलचस्पी रखते हैं तो पहले तो आपको कुछ चीजें जान लेनी चाहिए. क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने के लिए आपको और ज्यादा जागरूक होना पड़ेगा. कुछ फैक्टर्स हैं, जो इस करेंसी की दशा-दिशा तय करते हैं, वहीं, कुछ बातों का ध्यान आपको रखना चाहिए.

उतार-चढ़ाव

क्रिप्टोकरेंसी बड़े उतार-चढ़ाव का शिकार होती हैं. इनका मूल्य बहुत चढ़ता है तो बहुत ही तेजी से गिर भी जाता है. निवेश के सभी माध्यमों में सबसे ज्यादा खतरा इसी माध्यम है, कहा जाए तो बहुत अतिशयोक्ति नहीं होगी. उसपर से समस्या यह भी है कि क्रिप्टोकरेंसी को मान्यता नहीं मिली हुई है, ऐसे में कभी भी इसके गैरकानूनी घोषित किए जाने का खतरा बना रहता है. ऐसे में अगर आप निवेश कर रहे हैं तो जितना अफोर्ड कर सकते हैं. उतना ही करिए और क्रिप्टो की दुनिया के साथ-साथ बाहर की दुनिया की खोज खबर भी रखिए कि कहीं कोई फैक्टर इसपर निगेटव इंपैक्ट तो नहीं डाल सकता है.

रिजर्व बैंक ने बैंकों से कहा उसके क्रिप्टो करेंसी संबंधी सर्कुलर को निरस्त मानें

कब निवेश करना चाहिए

विशेषज्ञ मानते हैं कि किसी भी चीज में तब निवेश नहीं करना चाहिए, जब यह ऊंचाई की पीक पर हो और बबल फूटने वाला हो. वहीं, इसमें तब भी निवेश नहीं करना चाहिए, जब मार्केट क्रैश हो रहा है.  अच्छा होगा आप तब निवेश करें जब कीमतें थोड़े निचले स्तर पर स्थिर चल रही हों.  और ऊपर से अगर क्रिप्टोकरेंसी की बात करें तो इसके उतार-चढ़ाव को देखते हुए टाइम देखकर निवेश करना जरूरी होता है.

बिटकॉइन ही नहीं, कई दूसरे विकल्प भी हैं मौजूद

क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया में बस बिटकॉइन ही सबसे उत्तम विकल्प है, ऐसा नहीं है. हां, बिटकॉइन सबसे पुरानी और सबसे महंगी करेंसी है, लेकिन निवेशकों को इससे ज्यादा सस्ते विकल्प भी मिलेंगे. Ethereum, Litecoin, और Ripple का भी आकर्षण बढ़ा है. ऐसे में आप देख लें कि कौन सा क्रिप्टो कितना वॉलेटाइल और उसकी वैल्यू क्या चल रही है.

करेंसी का वाइटपेपर पढ़िए

वाइटपेपर ऐसा डिजिटल दस्तावेज होता है, जो निवेशकों को किसी डिजिटल करेंसी और कंपनी की पूरी जानकारी देता है. यह Draft Red Herring Prospectus का डिजिटल वर्जन होता है, जिसमें कंपनी करेंसी का प्राइस, यूटिलिटी वगैरह बताती है. इससे आप कॉइन की विश्वसनीयता और स्थिरता वगैरह को समझ सकते हैं.

धोखाधड़ी का शिकार न बनें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


क्रिप्टोकरेंसी में एक और बड़ा खतरा होता है- स्कैम, फ्रॉड का, हाल ही में अमेरिका के फेडरल ट्रेड कमीशन ने बताया था कि अक्टूबर, 2020 के बाद से मई के अंत तक करीबन 7,000 लोगों को क्रिप्टोकरेंसी की डीलिंग में चपत लग चुकी है. इसमें लोगों को करीब 585.43 करोड़ का नुकसान हुआ है. ऐसे में कभी बड़े-बड़े वादों और दावों के चक्कर में न पड़े. विश्वसनीय स्रोतों से ही रिसर्च करें और फिर निवेश करें.