COVID-19 से ठीक हो चुके व्यक्ति के शरीर में रह सकते हैं 60 दिन तक एंटीबॉडी : स्टडी

कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के ठीक होने के 60-80 दिन बाद तक उसके शरीर में एंटीबॉडी विद्यमान रहते हैं.

COVID-19 से ठीक हो चुके व्यक्ति के शरीर में रह सकते हैं 60 दिन तक एंटीबॉडी : स्टडी

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के ठीक होने के 60-80 दिन बाद तक उसके शरीर में एंटीबॉडी विद्यमान रहते हैं. दिल्ली के एक प्रमुख अस्पताल में पांच महीने से अधिक समय तक कराए गए सीरो सर्वेक्षण में यह जानकारी सामने आई. सर्वेक्षण में पाया गया कि ठीक हो चुके व्यक्ति के शरीर में एंटीबाडी कम से कम 60 दिन तक रह सकते हैं.

अध्ययन के अनुसार यह इस पर निर्भर करता है कि मरीज कब संक्रमित हुआ था या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया था. सीरो सर्वेक्षण, मैक्स अस्पताल और वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के जिनोमिकी और समवेत जीव विज्ञान संस्थान (आईजीआईबी) द्वारा संयुक्त रूप से कराया गया था.


आईजीआईबी के वैज्ञानिक शांतनु सेनगुप्ता ने कहा कि यह पता लगाने के लिए कि कोविड-19 के मरीज के ठीक होने के बाद उसमें एंटीबाडी कब तक रह सकते हैं, सर्वेक्षण में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की पुनः जांच की जाएगी. सीरो जांच के लिए कुल 780 नमूनों का इस्तेमाल किया गया जिनमें अस्पताल के कर्मचारी और महामारी के दौरान अस्पताल जाने वाले लोग शामिल थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सेनगुप्ता ने कहा, “हमारे अध्ययन में इसकी पुष्टि हुई है कि कोरोना वायरस रोधी एंटीबाडी शरीर में 60 दिन से अधिक समय तक रह सकते है. इससे संक्रमण से ठीक होने और पुनर्संक्रमित होने की प्रक्रिया को समझने में मदद मिलेगी. हमारे शरीर में एंटीबाडी कितने समय तक रह सकते हैं, इस दिशा में और अधिक अध्ययन किए जाने की आवश्यकता है.”



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)