कोरोनावायरस के चलते वित्तमंत्री ने किया राहतों का ऐलान, FY 2018-19 की ITR डेडलाइन 30 जून तक बढ़ी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बाद अब रात आठ बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में फैल रहे कोरोना वायरस को लेकर राष्ट्र को संबोधित करेंगे.

कोरोनावायरस के चलते वित्तमंत्री ने किया राहतों का ऐलान, FY 2018-19 की ITR डेडलाइन 30 जून तक बढ़ी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के मद्देनजर विभिन्न क्षेत्रों की मदद के लिये सरकार जल्द ही आर्थिक पैकेज की घोषणा करेगी. उन्होंने कहा कि देरी नहीं होगी, पैकेज की घोषणा जल्द ही की जाएगी. सीतारमण ने कर और नियामकीय शर्तों के अनुपालन की समयसीमा बढ़ाने तथा कुछ और छूट देने की घोषणाएं भी कीं. सीमारमण ने वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये संवाददाताओं से बातचीत करते हुए आयकर रिटर्न , जीएसटी रिटर्न दाखित करने और सीमा शुल्क एवं केन्द्रीय उत्पाद शुल्क संबंधी अनुपालनों के संबंध में ढील देने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे की रोकथाम के लिए आवागमन पर पाबंदी के बीच अनुपालनों आदि के लिए (वित्त वर्ष की अंतिम तिथि) 31 मार्च की अंतिम तिथि नजदीक आ गयी है. आने जाने की पाबंदियों के कारण उद्योग और व्यवसाय जगत को काफी परेशानी हो रही है, इसलिये अनुपालन की समयसीमा बढ़ाने का निर्णय किया गया है.

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से जूझ रहे देश के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहतों का ऐलान किया है. मंगलवार को वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स और जीएसटी को लेकर अहम ऐलान किया. उन्होंने कहा कि वित्तवर्ष 2018-19 की ITR की डेडलाइन 30 जून तक बढ़ा दी गई है. TDS पर ब्याज 18 फीसदी से घटाकर 9 फीसदी कर दिया गया है. इसके अलावा अलावा वस्तु एवं सेवा कर (GST) की मार्च, अप्रैल तथा मई, 2020 की रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि, यानी डेडलाइन को भी बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है.

वित्त मंत्री ने कहा, सालाना पांच करोड़ रुपये से कम कारोबार करने वाली कंपनियों से जीएसटी रिटर्न दाखिल में देरी पर कोई ब्याज, जुर्माना अथवा विलंब शुल्क नहीं लिया जायेगा.

वित्त मंत्री ने किए ये ऐलान

- FY 2018-19 की ITR डेडलाइन 30 जून तक बढ़ी

- आधार को PAN कार्ड से लिंक करने की तारीख 30 जून

- विवाद से विश्वास स्कीम 30 जून तक

- TDS पर ब्याज 18 से घटाकर 9 फीसदी किया गया

- रिटर्न देरी पर 12 फीसदी के स्थान पर 9 फीसदी चार्ज

इसके बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार 24 मार्च को रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में यह जानकारी दी. मोदी ने ट्वीट में कहा, ‘वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण बातें देशवासियों के साथ साझा करूंगा.' उन्होंने कहा, ‘आज, 24 मार्च रात 8 बजे देश को संबोधित करूंगा.'

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने बृहस्पतिवार को राष्ट्र के नाम संदेश में रविवार को ‘जनता कर्फ्यू' लागू करने और लोगों से घर-घर दूध, अखबार, राशन पहुंचाने वालों, पुलिसकर्मियों, स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों और मीडियाकर्मियों के प्रति आभार जताने की अपील की थी. उन्‍होंने ऐसे लोगों का आभार जताने के लिए 22 मार्च की शाम 5 बजे घर की खिड़की, बालकनी या गेट पर आकर ताली, घंटा-थाली बजाने की अपील की थी.


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को लोगों से लॉकडाउन का गंभीरता से पालन करने की अपील करते हुए राज्य सरकारों से नियमों और कानूनों का पालन कराना सुनिश्चित करने को भी कहा था.

वीडियो: खबरों की खबर: भारत में बढ़ा कोरोना का खतरा, तेजी से फैल रहा है संक्रमण

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com