DA Hike! दीवाली पर केंद्रीय कर्मियों को मोदी सरकार का तोहफा, महंगाई भत्ता 3% बढ़ा

दीवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को सरकार ने खुशखबरी दे दी है. केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनरों के महंगाई भत्ते में 3 फीसदी बढ़ोतरी को केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है. 

खास बातें

  • DA में और 3 फीसदी की बढ़ोतरी
  • अब 28 फीसदी से बढ़कर 31 फीसदी हुआ डीए
  • केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों को खुशखबरी
नई दिल्ली:

देश के करीब 1 करोड़ 15 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए एक राहत की खबर है. भारत सरकार ने महंगाई भत्ते में 3% बढ़ोतरी के प्रस्ताव को मंज़ूरी दे दी है. ये फैसला 1 जुलाई से लागू होगा. बढ़ी हुई महंगाई के इस दौर में कैबिनेट ने भारत सरकार के कर्मचारियों और पैंशनधारियों को मिलने वाली महंगाई भत्ता को 3% बढ़ाने का फैसला किया. इसके साथ ही महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी पर लगी रोक भी हट गई है. सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारियों का महंगाई भत्ता मौजूद 28% से बढ़कर 31% हो गया है. इसका फायदा 47.14 लाख सरकारी कर्मचारियों और 68.62 लाख पेंशनधारियों को मिलेगा. इस फैसले से सरकार पर सालाना 9488.70 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा.

कितना बढ़ जाएगा डीए
कैबिनेट की मंजूरी के बाद जब यह आदेश लागू हो जाएगा तो आज की बढ़ोतरी के बाद अब डीए 31 फीसदी हो जाएगा. इस साल जुलाई में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते तथा महंगाई राहत (डीआर) दर एक जुलाई से प्रतिशत 11 अंक की वृद्धि का फैसला किया था. इससे डीए की नई दर 17 प्रतिशत से बढ़कर 28 प्रतिशत हो गई थी. वहीं, आज डीए में तीन फीसदी की बढ़ोतरी के साथ डीए की नई दर 31 फीसदी हो गई है यानी कि केंद्रीय कर्मचारियों को उनके बेसिक पे का 31 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा.

कब से मिलेगा फायदा
यह नई दरें 1 जुलाई, 2021 से लागू होंगी. बेसिक पे और पेंशन के मौजूदा 28% पर यह 3% अतिरिक्त देय होगा. इस निर्णय से केंद्र सरकार के 47.14 लाख कर्मचारियों और 68.62 लाख पेंशनधारियों को लाभ मिलेगा. इससे केंद्र सरकार के ख़ज़ाने पर हर वर्ष 9,488.70 करोड़ रुपये का भार आएगा.


कैबिनेट में 100 करोड़ वक्सीनेशन डोज का टारगेट पूरा होने पर टीकाकरण अभियान की समीक्षा भी की गयी. अनुराग ठाकुर ने कहा, "वैक्सीनेशन के प्रति प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात और दूसरे कार्यक्रमों के जरिए जनता में जागरूकता बढ़ाई जिस वजह से यह टारगेट भारत पूरा करने में कामयाब हुआ है. बड़ी संख्या में नागरिकों ने वैक्सीन का पहला डोज लिया है. हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में सौ पर्सेंट का टारगेट भी पूरा किया है. उम्मीद है कि दूसरे राज्य भी वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ाएंगे. जहां-जहां भी कमियां हैं उन्हें दूर करना होगा." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : क्या क्रिप्टो करेंसी गोल्ड की जगह ले सकती है?