हरियाणा का माहौल खराब करने के लिए पंजाब से बड़ी भीड़ लाने की राहुल को इजाजत नहीं दे सकतेः अनिल विज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि अगर कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी ट्रैक्टर रैलियों के लिए कुछ लोगों के साथ मंगलवार और बुधवार को राज्य में प्रवेश करते हैं तो हरियाणा सरकार को कोई समस्या नहीं है.

हरियाणा का माहौल खराब करने के लिए पंजाब से बड़ी भीड़ लाने की राहुल को इजाजत नहीं दे सकतेः अनिल विज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (फाइल फोटो).

चंडीगढ़:

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि अगर कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी ट्रैक्टर रैलियों के लिए कुछ लोगों के साथ मंगलवार और बुधवार को राज्य में प्रवेश करते हैं तो हरियाणा सरकार को कोई समस्या नहीं है, लेकिन उन्हें माहौल को "खराब" करने के लिए बड़ी भीड़ लाने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

कांग्रेस नेताओं के मुताबिक, गांधी पंजाब में नव निर्मित कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर रैलियां कर रहे हैं. वह मंगलवार को अपने समर्थकों के साथ कुरुक्षेत्र जिले के पिहोवा शहर पहुंचेंगे और एक सभा को संबोधित करेंगे. वह करनाल में भी जनसभा को संबोधित करेंगे.

विज ने सोमवार को पीटीआई-भाषा से कहा, " अगर वह अकेले या कुछ लोगों के साथ आना चाहते हैं तो कोई दिक्कत नहीं हैं. वह 100 बार आ सकते हैं, हमें कोई आपत्ति नहीं हैं, लेकिन अगर वह हरियाणा का माहौल खराब करने के लिए पंजाब से बड़ी भीड़ लेकर आते हैं तो हम अनुमति नहीं देंगे. " 

उन्होंने कहा, "... यह हमारी कानून एवं व्यवस्था से जुड़ा मुद्दा है. पिछले महीने, हमने कांग्रेस प्रायोजित दो रैलियों को राज्य में प्रवेश करने से रोक दिया था. पंजाब में कांग्रेस सत्ता में हैं और वह हरियाणा के शांतिपूर्ण वातावरण को खराब करने के लिए राज्य के तंत्र का उपयोग करना चाहती है, जिसकी हम अनुमति नहीं देंगे. " 

विज ने आरोप लगाया कि कांग्रेस हरियाणा के किसानों को भड़काने की कोशिश कर रही है, लेकिन राज्य सरकार उन्हें "उनकी योजना में कामयाब नहीं होने देगी." उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में हम हरियाणा में शांति व्यवस्था को खराब करने के लिए कांग्रेस की "दुष्ट योजना को" कामयाब नहीं होने देंगे. 

"हम किसी भी कीमत पर इसकी अनुमति नहीं देंगे." विज ने एक अक्टूबर को भी कहा था कि गांधी की ट्रैक्टर रैली को राज्य में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी. इसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उनसे पूछा था कि क्या राज्य में " जंगल राज" चल रहा है ? कांग्रेस नेताओं के मुताबिक, हरियाणा की अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान गांधी का पिहोवा में किसानों की एक सभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है.

वह एक रात कुरूक्षेत्र में रुकेंगे और फिर बुधवार सुबह पिपली जाएंगे जहां वह किसानों से मिलेंगे जिन पर 10 सितंबर को तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से लाठीचार्ज किया गया था. इसके बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष निलोखेड़ी और करनाल जाएंगे और फिर दिल्ली लौट जाएंगे. नेहरू-गांधी परिवार के शासन के प्रति मुखर रहने वाले विज ने कहा कि हरियाणा में एक जगह पर भारी भीड़ इकट्ठा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

उन्होंने कहा, “ मैं कानून से बंधा हूं, मैं कैसे बड़ी भीड़ की इजाजत दे सकता हूं.“ अमरिंदर सिंह की “ जंगल राज“ संबंधी टिप्पणी पर विज ने कहा, “ असल में यह पंजाब में है जहां कोई कानून एवं व्यवस्था नहीं है.“ हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री विज ने कहा, “ वे किसानों की बात करते हैं, लेकिन उनके उपकरणों को जला देते हैं जिनकी वे पूजा करते हैं. पहले उन्होंने (युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने) अंबाला सीमा पर एक ट्रैक्टर को जलाया और बाद में दिल्ली में एक ट्रैक्टर को जला दिया.“ 


विज ने कहा, “ उन्हें किसानों की चिंता नहीं हैं, वे उनके नाम पर सिर्फ राजनीति कर रहे हैं. राहुल गांधी, अमरिंदर सिंह और (पंजाब कांग्रेस के प्रमुख) सुनील जाखड़ ' मोडीफाइड ट्रैक्टर ' पर सवार हुए. वे अपने तथाकथिक प्रदर्शन के दौरान भी आराम को छोड़ना नहीं चाहते हैं. उन्हें देखना चाहिए किसान अपने खेतों में कितनी मेहनत करता है.“ 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


विज ने कहा कि कांग्रेस कृषि कानूनों पर किसानों को गुमराह कर रही है. उन्होंने कांग्रेस पर हाथरस सामूहिक बलात्कार घटना का राजनीतिकरण करने का भी आरोप लगाया और राजस्थान के बारां जिले में दो नाबालिग बहनों के साथ कथित बलात्कार की घटनाओं का हवाला दिया और पूछा कि राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी वाद्रा ने बारां का दौरा क्यों नहीं किया ?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)