पूर्व पीएम चौधरी चरणसिंह की विरासत को लेकर बीजेपी का 'दांव', प्राकृतिक खेती पर वाराणसी में करेगी महासम्‍मेलन

चौधरी चरण सिंह की जयंती 23 दिसंबर पर बीजेपी प्राकृतिक खेती पर महासम्मेलन करेगी.  प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होने वाले इस सम्मेलन को लेकर देशभर में तैयारी जोरों पर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महासम्मेलन को संबोधित करेंगे.

पूर्व पीएम चौधरी चरणसिंह की विरासत को लेकर बीजेपी का 'दांव', प्राकृतिक खेती पर वाराणसी में करेगी महासम्‍मेलन

चौधरी चरण सिंह की जयंती पर बीजेपी प्राकृतिक खेती पर महासम्मेलन करेगी (प्रतीकात्‍मक फोटो)

नई दिल्‍ली :

किसान और जाट नेता पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की विरासत को लेकर बीजेपी बड़ा दांव लगाने जा रही है. चौधरी चरण सिंह की जयंती 23 दिसंबर पर बीजेपी प्राकृतिक खेती पर महासम्मेलन करेगी.  प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होने वाले इस सम्मेलन को लेकर देशभर में तैयारी जोरों पर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महासम्मेलन को संबोधित करेंगे.यूपी में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होना है, इसलिए इस सम्‍मेलन में किसानों के हित में किए गए फ़ैसलों का जिक्र होगा. महासम्मेलन में कृषि वैज्ञानिक, उन्नत कृषि किसान और कृषि विशेषज्ञ भी हिस्सा लेंगे.  बीजेपी किसान मोर्चा देशभर में मंडल स्तर पर कार्यक्रम करेगी, बड़े होर्डिंग लगाए जाएंगे और कृषि वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों को बुलाया जाएगा. किसानों के हितों में चलाई जा रही योजनाओं का प्रचार-प्रसार होगा.

शशि थरूर का ऐलान, ' सांसदों का निलंबन रद्द होने तक ‘संसद टीवी' पर कार्यक्रम होस्‍ट नहीं करूंगा'


जानकारों की मानें तो किसान आंदोलन के कारण यूपी खासकर पश्चिमी यूपी में जमीनी हालात तेजी से बदल रहे हैं. लगातार तीन चुनावों में बीजेपी को यहां जबर्दस्त समर्थन मिला. वैसे तो किसान आंदोलन का कारण बने कृषि कानूनों के कारण प्रमुख रूप से गन्ने की फसल उगाने वाले इस क्षेत्र में किसानों के हक पर कोई चोट नहीं हो रही थी, लेकिन धारणा यह बन गई कि सरकार किसान विरोधी है. ऐसे में बीजेपी को यह भी डर रहा कि चुनाव प्रचार में उतरने पर उसके नेताओं को कहीं किसानों के विरोध का सामना न करना पड़े. अमित शाह कह चुके हैं कि 2024 में अगर मोदी को फिर पीएम बनाना है तो यूपी में 2022 में योगी को जिताना जरूरी है. इसलिए विधानसभा चुनाव के लिए किसानों का विश्‍वास जीतने के लिए बीजेपी ने फिर से जोरशोर से तैयारियां शुरू की हैं. 

आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने अखिलेश से गठबंधन पर दिए अहम संकेत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com