बाबुल सुप्रियो ने राजनीति को कहा अलविदा, हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट से हटाए गए थे

बाबुल सुप्रियो ने साल 2014 में भाजपा के साथ जुड़कर सियासी पारी शुरू की थी.

बाबुल सुप्रियो ने राजनीति को कहा अलविदा, हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट से हटाए गए थे

भारतीय जनता पार्टी के सांसद बाबुल सुप्रियो.

नई दिल्ली:

बंगाल के आसनसोल से भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो ने शनिवार को ऐलान किया कि वह राजनीति को अलविदा कह रहे हैं. उन्हें हालही मोदी सरकार के केंद्रीय कैबिनेट से बाहर किया गया था. हालांकि, उन्होंने यह किसी दूसरी पार्टी के साथ नहीं जुड़ रहे हैं. उन्होंने यह कहते हुए स्पष्ट किया कि वह एक ही टीम में खेलने वाले खिलाड़ी हैं, मैंने केवल एक ही टीम को सपोर्ट किया है.

उन्होंने राजनीति छोड़ने का ऐलान फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर किया, जिसकी शुरुआत में उन्होंने लिखा है, 'मैं जा रहा हूं ... विदाई.' वह पोस्ट बंगाली में लिखी गई है, उसके साथ ही दिवंगत पार्श्व गायक हेमंत मुखर्जी के एक गीत का YouTube लिंक भी शेयर किया गया है.

इस्तीफे पर छलका बाबुल सुप्रियो का दर्द, सोशल पोस्ट में लिखा- अपने लिए दुखी हूं

उन्होंने लिखा है, 'सबकी बात सुनी - पिता, माँ, पत्नी, बेटी, दो प्यारे दोस्त सब कुछ सुनने के बाद, मैं कहता हूं कि मैं किसी और पार्टी में नहीं जा रहा हूं. #TMC, #Congress, #CPIM, कहीं नहीं. मैं एक टीम का खिलाड़ी हूं! हमेशा एक टीम का समर्थन किया है. पश्चिम बंगाल में केवल बीजेपी का समर्थन किया है. बस...मैं जा रहा हूं... यदि आप सोशल वर्क करना चाहते हैं तो आप इसे राजनीति में आए बिना भी कर सकते हैं.'


सुप्रियो ने यह भी कहा कि वह सांसद के पद से भी इस्तीफा दे रहे हैं. उन्होंने साल 2014 में भाजपा के साथ जुड़कर सियासी पारी शुरू की थी. 2014 में भाजपा के लोकसभा चुनाव जीतने के बाद उन्हें केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री बनाया गया था. हालही केंद्रीय कैबिनेट में हुए फेरबदल में उन्हें केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री के पद से हटा दिया गया था. कुछ महीने पहले बंगाल विधानसभा चुनाव में टॉलीगंज विधानसभा सीट से 50 हजार वोटों से हार गए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अमित शाह और जेपी नड्डा जैसे शीर्ष भाजपा नेताओं का शुक्रिया अदा करते हुए उन्होंने यह कदम 'सौदेबाजी' के लिए नहीं उठाया है. उन्होंने लिखा, '... वे सोच सकते हैं कि मैं 'पद' के लिए 'सौदेबाजी' कर रहा हूं ... मैं प्रार्थना करता हूं कि वे मुझे गलत न समझें, मुझे माफ करें.'