पटेल की जिन्ना से तुलना करने वाले दल से सतर्क रहना चाहिए : योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से करने वाले राजनीतिक दल को आड़े हाथों लेते हुए लोगों को ऐसे दलों से सतर्क रहने की अपील की और कहा कि एक (पटेल) देश को जोड़ने वाला था तो दूसरा (जिन्ना) देश को तोड़ने वाला था.

पटेल की जिन्ना से तुलना करने वाले दल से सतर्क रहना चाहिए : योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से करने पर अखिलेश यादव का विरोध किया

औरैया :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शनिवार को सरदार पटेल (Sardar Patel) की तुलना जिन्ना से करने वाले राजनीतिक दल को आड़े हाथों लेते हुए लोगों को ऐसे दलों से सतर्क रहने की अपील की और कहा कि एक (पटेल) देश को जोड़ने वाला था तो दूसरा (जिन्ना) (Jinnah) देश को तोड़ने वाला था. योगी ने कहा कि आज अगर माफिया के ऊपर बुलडोजर चल रहा है तो माफिया के शरणदाताओं पर भी एक दिन जरूर चलेगा. औरैया (Auraiya) में राजकीय मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास एवं विकास परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास करते हुए मुख्यमंत्री ने शनिवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘एक दल के नेता ने पिछले दिनों एक वक्तव्य जारी किया था और भारत की अखंडता के प्रतीक सरदार पटेल की तुलना देश को तोड़ने वाले जिन्ना से करने का प्रयास किया था, इस प्रकार के शर्मनाक और निंदनीय बयानों को पूरे प्रदेश को खारिज करना चाहिये.''

गौरतलब है कि यादव ने रविवार को हरदोई में एक भाषण में कहा था, ''सरदार वल्लभ भाई पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) और (मोहम्मद अली) जिन्ना ने पढ़ाई की और बैरिस्टर बने तथा भारत की आजादी के लिए किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटे."

यादव के इस बयान पर जवाब देते हुए योगी ने कहा कि एक सरदार पटेल देश को जोड़ने वाले थे और भारत की एकता अखंडता के प्रतीक हैं, भारत की 563 से अधिक रियासतों को भारत गणराज्य का हिस्सा बनाने का श्रेय अगर किसी एक महापुरुष को जाता हैं तो वह लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को जाता है जबकि दूसरी तरफ जिन्ना भारत को तोड़ने वाले थे.

उन्होंने कहा, ‘‘आज जिन्ना और सरदार पटेल की तुलना करने का प्रयास हो रहा है, हमें ऐसे तत्वों के मंसूबों को समझना होगा. सरदार पटेल देश को जोड़ने वाले थे और जिन्ना देश को तोड़ने वाले थे । दोनों समकक्ष नही हो सकते, सरदार पटेल राष्ट्रनायक है लेकिन जिन्ना भारत की एकता को खंडित करने वाले हैं.  जो लोग यह तुलना करने का प्रयास कर रहे हैं हमें उनसे सतर्क रहना होगा. ''

योगी ने कहा,‘‘आज प्रदेश बदल रहा है प्रदेश की छवि बदली है पहले पेशेवर अपराधी और माफिया, गरीबों का, व्यापारियों का , बेटियों और बहनो का जीना हराम कर देते थे. अगर माफिया के ऊपर बुलडोजर चल रहा है तो माफिया के शरणदाताओं पर भी जरूर चलेगा. ''

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पहले पर्व एवं त्योहार आते ही दंगे शुरू हो जाते थे, आस्था पर भी कुठराघात होता था, छोटे बड़े सभी व्यापारियों की कमाई भी लुट जाती थी.  उन्होंने कहा कि यहीं नहीं आमजन की आस्था पर प्रहार तो होता ही था झूठे मुकदमे सामान्य नागरिकों पर लादकर उन्हें जेल में बंद कर दिया जाता था.

योगी ने कहा, ‘‘आपने पिछले साढ़े चार वर्ष में देखा होगा कि प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ और जिसने दंगा करने का प्रयास किया, उनको दो टूक बता दिया गया है कि दंगा करना छोड़ दो, आस्था के साथ खिलवाड़. करना छोड़ दो और अगर करोगे तो ब्याज सहित वसूली भी होगी. ''

योगी ने कहा, ‘‘संवेदनशील सरकार बिना भेदभाव के काम करती है, विकास योजनाओं में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करती है और सबको समान रूप से लाभ दे रही है.  लेकिन तुष्टिकरण किसी का नही करती है. ''
मुख्यमंत्री ने प्रदेश में चल रही विकास योजनाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी और केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोलियम पदार्थों पर उत्पाद शुल्क हटाये जाने की प्रशंसा की.


इटावा से मिली खबर के अनुसार मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इटावा में सेंट्रल जेल के उद्घाटन के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ''''अपराधियों के संरक्षण दाता प्रदेश के विकास को बाधित करना चाहते हैं. अब वक्त आ गया है कि अपराधियों पर ही नहीं अपराधियों के संरक्षणदाताओं पर कड़ी कार्रवाई करनी पड़ेगी जिससे अपराध और अपराधियों पर अंकुश लगे.''''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्‍होंने कहा, ''''पहले जनता का पैसा कब्रिस्तानों की चहरदिवारी पर खर्च किया जाता था लेकिन वही पैसा जनता की भलाई, उनके विकास कार्यों पर खर्च हो रहा है. पहले की सरकारें सरकारी योजनाओं का लाभ परिवार तक सीमित रखती थीं और माफिया मिलकर जनता का हक खा जाते थे और अब मेरे लिए प्रदेश की 25 करोड़ जनता ही मेरा परिवार है. ''''
योगी ने इटावा में सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों की संख्‍या गिनाते हुए इटावा जिले की महत्वपूर्ण योजना पचनदा बांध परियोजना की प्रगति का उल्लेख किया. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)