'आजादी के बाद सरदार पटेल को उनके योगदान का उचित सम्मान नहीं मिला.. ": गृह मंत्री अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह रविवार को गुजरात के केवड़िया पहुंचे जहां उन्होंने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर हुए एक समारोह में हिस्सा लिया.

नई दिल्ली:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) रविवार को गुजरात के केवड़िया पहुंचे जहां उन्होंने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) पर हुए एक समारोह में हिस्सा लिया. सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती (Sardar Vallabhbhai Patel birth anniversary) पर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में यह कार्यक्रम रखा गया था. इस दौरान तीनों सेनाओं ने सलामी दी. पुलिसकर्मियों ने तिरंगा झंडा फहराते हुए परेड की. साथ ही कई अन्य कार्यक्रम हुए. शाह राष्ट्रीय एकता दिवस समारोह में शामिल हुए. वो अमूल के 75वें स्थापना वर्ष समारोह में भी शिरकत करेंगे.

अमित शाह ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि सरदार पटेल को भूलने की कोशिश की गई. आजादी के बाद उनके योगदान को कभी भी उचित सम्मान नहीं दिया गया. उन्हें न तो भारत रत्न दिया गया और न ही उचित सम्मान. स्थिति बदली,  उन्हें भारत रत्न दिया गया और यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा देखने के लिए हमारे सामने है. 

अमित शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा, सरदार पटेल का जीवन हमें बताता है कि कैसे एक व्यक्ति अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति, लौह नेतृत्व और अदम्य देशप्रेम से देश के भीतर की सभी विविधताओं को एकता में बदल कर एक अखंड राष्ट्र का स्वरूप दे सकता है. सरदार साहब ने देश के एकीकरण के साथ आजाद देश की प्रशासनिक नींव रखने का भी काम किया है.  

मातृभूमि के लिए सरदार पटेल का समर्पण, निष्ठा, संघर्ष और त्याग हर देशवासी को देश की एकता व अखंडता के लिए खुद को समर्पित करने की प्रेरणा देता है. गृह मंत्री ने कहा, अखंड भारत के ऐसे महान शिल्पी की जयंती पर उनके चरणों में नमन और समस्त देशवासियों को 'राष्ट्रीय एकता दिवस' की शुभकामनाएं देता हूं.

इसके साथ ही दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी सरदार वल्‍लभभाई पटेल की जयंती पर उन्‍हें याद किया. केजरीवाल ने कहा कि उनकी कुशल नेतृत्‍व क्षमता हमें सदा प्रेरित करती रहेगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com