आज भी कर्नाटक बीजेपी में विकल्प उपलब्ध लेकिन बना रहूंगा सीएम: बीएस येदियुरप्पा

यह संभवत: पहली बार है जब 78 वर्षीय लिंगायत नेता ने नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे पर विस्तार से बात की है. पिछले कुछ समय से अटकलें लगाई जा रही थीं कि सत्ताधारी भाजपा के भीतर  येदियुरप्पा को हटाने के लिए दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है.

आज भी कर्नाटक बीजेपी में विकल्प उपलब्ध लेकिन बना रहूंगा सीएम: बीएस येदियुरप्पा

बेंगलुरु:

कर्नाटक (Karnataka) में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (B S Yediyurappa) ने रविवार को कहा कि जब तक BJP आलाकमान को उन पर भरोसा है, तब तक वह मुख्यमंत्री पद पर बने रहेंगे और उन्हें इसके बारे में कोई भ्रम नहीं है. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा, वह इस बात से सहमत नहीं होंगे कि राज्य बीजेपी में उनकी जगह लेने के लिए कोई वैकल्पिक नेता नहीं था.

येदियुरप्पा ने सीएम बदले जाने के प्रयासों पर एक सवाल के जवाब में कहा, "...जब तक दिल्ली आलाकमान को मुझ पर भरोसा है, मैं मुख्यमंत्री बना रहूंगा. जिस दिन वे कहेंगे कि वे मुझे नहीं चाहते, मैं इस्तीफा दे दूंगा और राज्य के विकास के लिए दिन-रात काम करूंगा. " 

बेंगलुरू में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, "मैं किसी भ्रम में नहीं हूं. उन्होंने (आलाकमान) मुझे एक मौका दिया है, मैं अच्छे के लिए अवसर का उपयोग करने के लिए अपनी ताकत से परे प्रयास कर रहा हूं. बाकी आलाकमान के ऊपर छोड़ दिया गया है."

गूगल ने कन्नड़ भाषा को बताया सबसे भद्दी भाषा, नाराजगी बाहर आने पर मांगी माफी

"वैकल्पिक नेतृत्व" पर एक सवाल के जवाब में येदियुरप्पा ने कहा, "मैं किसी की आलोचना नहीं करूंगा. मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि कोई वैकल्पिक व्यक्ति नहीं है. राज्य और देश में हमेशा वैकल्पिक व्यक्ति होंगे, इसलिए मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि कर्नाटक में कोई वैकल्पिक व्यक्ति नहीं है, लेकिन जब तक आलाकमान को मुझ पर भरोसा है, मैं मुख्यमंत्री के रूप में बना रहूंगा."

यह संभवत: पहली बार है जब 78 वर्षीय लिंगायत नेता ने नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे पर विस्तार से बात की है. पिछले कुछ समय से अटकलें लगाई जा रही थीं कि सत्ताधारी भाजपा के भीतर  येदियुरप्पा को हटाने के लिए दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है.

राज्य के पर्यटन मंत्री सीपी योगेश्वर और हुबली-धारवाड़ पश्चिम से विधायक अरविंद बेलाड ने हाल ही में दिल्ली की यात्रा की थी और कथित तौर पर आलाकमान से मिलकर येदियुरप्पा की कार्यप्रणाली के खिलाफ कुछ विधायकों की भावनाओं से अवगत कराया था. आलाकमान से इन नेताओं को मुलाकात ने राज्य में मेतृत्व परिवर्तन की हवा को बल दिया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि, उपमुख्यमंत्री सीएन अश्वथ नारायण , गृह मंत्री बसवराज एस बोम्मई, आवास मंत्री वी सोमन्ना, उद्योग मंत्री जगदीश शेट्टार ने कहा कि वे इस तरह के किसी भी घटनाक्रम से अनजान हैं और उन्होंने नेतृत्व परिवर्तन से इनकार किया.