लगातार 7 वें दिन हवा की गुणवत्ता में कोई सुधार नहीं, 21 नवंबर तक सरकारी विभागों में 100 % वर्क फ्रॉम

प्रदूषण को देखते हुए सरकारी विभागों के लिए 100 प्रतिशत वर्क फ्रॉम होम होगा.जबकि राजधानी में स्कूल और अन्य शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे

लगातार 7 वें दिन हवा की गुणवत्ता में कोई सुधार नहीं, 21 नवंबर तक सरकारी विभागों में 100 % वर्क फ्रॉम

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से लोग परेशान

नई दिल्ली:

दिल्ली की हवा की गुणवत्ता में कोई सुधार नहीं हो रहा है. लगातार सातवें दिन शनिवार को वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में बनी हुई है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR)के अनुसार ओवरऑल एयर क्वालिटी इंडेक्स बढ़कर 355 हो गया .  

दिल्ली में अगले कुछ दिनों में तापमान में कमी आने की संभावना : मौसम विभाग

बता दें कि  शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘‘अच्छा'', 51 और 100 के बीच एक्यूआई को ‘‘संतोषजनक'', 101 और 200 के बीच ‘‘मध्यम'', 201 और 300 के बीच ‘‘खराब'', 301 और 400 के बीच ‘‘बेहद खराब'' तथा 401 और 500 के बीच एक्यूआई को ‘‘गंभीर'' श्रेणी में माना जाता है.

Air Pollution Diet: वायु प्रदूषण से बचने के लिए डाइट में शामिल करें ये चीजें

इसी बीच प्रदूषण को कम करने के लिए घोषणा करते हुए दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि 21 नवंबर तक सरकारी विभागों के लिए 100 प्रतिशत वर्क फ्रॉम होम होगा. राय ने बताया कि दिल्ली में 21 नवंबर तक निर्माण कार्य पर भी रोक लगा दी गई है. जबकि राष्ट्रीय राजधानी में स्कूल और अन्य शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे. 

सवाल इंडिया का : कौन निपटेगा दिल्ली के प्रदूषण से? अदालत या सरकारें?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com