जनवरी-फरवरी तक उपलब्‍ध करा सकते हैं वैक्‍सीन के 10 करोड़ डोज : अदार पूनावाला

एस्‍ट्राजेनेका  ने दावा किया था कि वैक्‍सीन 90 फीसदी तक असरदार है. इससे कोरोना वायरस के खिलाफ वैश्विक जंग को मजबूत मिली है.

खास बातें

  • पूनावाला ने कहा, करीब चार करोड़ डोज हो चुके तैयार
  • उनकी कंपनी ने किया है सरकार के साथ वैक्‍सीन की डोज का करार
  • सरकार बड़े पैमाने पर करीब 250 रुपये में खरीदेगी यह डोज
नई दिल्ली:

ऑक्‍सफोर्ड वैक्‍सीन को लेकर अदार पूनावाला ने NDTV  से बातचीत में  कहा कि जनवरी-फरवरी तक 10 करोड़ कोरोना वैक्‍सीन के डोज उपलब्‍ध करा सकते हैं.मशहूर फार्मा कंपनी एस्‍ट्राजेनेका और यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्‍सफोर्ड की ओर से मिलकर विकसित की गई कोरोना वायरस वैक्‍सीन COVAXIN के रिजल्‍ट उत्‍साह बढ़ाने वाले रहे हैं. यह बात सीरम इंस्‍टीट्यूट के अदार पूनावाला ने सोमवार को कही. इससे कुछ घंटे पहले एस्‍ट्राजेनेका  ने दावा किया था कि वैक्‍सीन 90 फीसदी तक असरदार है. इससे कोरोना वायरस के खिलाफ वैश्विक जंग को मजबूत मिली है.

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के कारण दुनिया में अब तक 13 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. अकेले भारत में ही कोरोना संक्रमण के कारण एक लाख 34 हजार से ज्‍यादा लोगों ने जान गंवाई है. भारत के महाराष्‍ट्र, दिल्‍ली, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश जैसे राज्‍य कोरोना से बेहद प्रभावित हैं. 


"दिसंबर में और बदतर हो सकते हैं हालात" : 4 राज्यों से कोविड रिपोर्ट चाहता है सुप्रीम कोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि पूनावाला की कंपनी ने कोविड वैक्‍सीन के विस्‍तृत पैमाने पर डोज के लिए सरकार के साथ करार दिया है. उन्‍होंने कहा कि करीब चार करोड़ डोज तैयार हो चुके हैं और केंद्र सरकार बड़े पैमाने पर यह डोज 250 रुपये या इससे कुछ कम राशि में खरीदेगी. यह दो डोज की वैक्‍सीन है.उन्‍होंने बताया कि वैक्‍सीन 500 और 600 रुपये प्रति डोज की दर पर प्राइवेट मार्केट में बेची जाएगी, इससे डिस्‍ट्रीब्‍यूटर्स को पैसे बनाने में कुछ मदद मिलेगी.