'दूध का दूध' और 'पानी का पानी' हो : पेगासस मामले में SC की निगरानी में SIT जांच की AAP की मांग

आप सांसद संजय सिंह ने एनडीटीवी से कहा कि पेगासस स्पाइवेयर विवाद की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एक हाई लेवल एसआईटी गठित करके करनी चाहिए. 

'दूध का दूध' और 'पानी का पानी' हो : पेगासस मामले में SC की निगरानी में SIT जांच की AAP की मांग

एसआईटी की जांच से ही मामले में दूध का दूध और पानी का पानी हो पाएगा : संजय सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पेगासस स्पाइवेयर (Pegasus Spyware Case) के जरिये जासूसी के मामला सामने आने के बाद विपक्ष लगातार सरकार पर हमला कर रहा है. संसद के मानसून सत्र के दूसरे दिन भी विपक्षी सांसदों ने इसे लेकर हंगामा किया, जिसके चलते राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा. विपक्ष जासूसी कांड में जांच की मांग कर रहा है. इस बीच, आम आदमी पार्टी (AAP) ने इस मामले की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में उच्च स्तरीय एसआईटी गठित करके जांच की मांग की है. 

आप सांसद संजय सिंह ने एनडीटीवी से कहा, "पेगासस स्पाइवेयर विवाद की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एक हाई लेवल एसआईटी गठित करके करनी चाहिए. देश के महत्वपूर्ण नेताओं, पत्रकारों और दूसरे कई लोगों के फोन हैक की बात सामने आ रही है.इस विवाद में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई का भी नाम सामने आया है, जिस महिला ने आरोप लगाया था उस महिला का फोन हैक करने की बात सामने आई है." 


उन्होंने कहा कि यह विवाद पहले अप्रैल में आया और फिर नवंबर में राफेल डील पर क्लीन चिट दी गई. इस पूरे मामले की जांच होनी चाहिए. यह निजता के हनन का भी मामला है. यह कोई सामान्य मामला नहीं है. सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एसआईटी की जांच से ही इस मामले में दूध का दूध और पानी का पानी हो पाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com