Immunity-Boosting Foods: आंवला से लेकर सहजन तक, ये 5 सुपरफूड्स बनाएंगे इम्यूनिटी को मजबूत

Foods for immunity: इम्यूनिटी बूस्ट करने के वाली डाइट को फॉलो करें. आप भोजन का चुनाव, फिजिकली एक्ट‍िव होने का स्तर, नींद की गुणवत्ता, मानसिक शांत‍ि - ये सभी आपकी प्रतिरक्षा को बना या बिगाड़ सकते हैं. खासतौर पर भोजन और पोषण में, प्रतिरक्षा को बढ़ाने में विटामिन और खनिजों (Vitamins and Minerals) की भूमिका बहुत बड़ी है.

Immunity-Boosting Foods: आंवला से लेकर सहजन तक, ये 5 सुपरफूड्स बनाएंगे इम्यूनिटी को मजबूत

Foods for immunity: इम्यूनिटी बूस्ट करने के वाली डाइट को फॉलो करें.

मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली (Building a strong immune system) बनाना एक या दो दिन की प्रक्रिया नहीं है. प्रतिरक्षा यानी बेहतर इम्यूनिटी समय के साथ बनती है. अच्छी इम्यूनिटी पाने के लिए यह जरूरी हो जाता है कि आप अपने खान-पान की आदतें और जीवनशैली को बेहतर करें. इम्यूनिटी बूस्ट करने के वाली डाइट को फॉलो करें. आप भोजन का चुनाव, फिजिकली एक्ट‍िव होने का स्तर, नींद की गुणवत्ता, मानसिक शांत‍ि - ये सभी आपकी प्रतिरक्षा को बना या बिगाड़ सकते हैं. खासतौर पर भोजन और पोषण में, प्रतिरक्षा को बढ़ाने में विटामिन और खनिजों (Vitamins and Minerals) की भूमिका बहुत बड़ी है. कोविड महामारी के बीच हर कोई इम्यूनि‍टी बूस्ट करने के लिए तरह तरह के उत्पादों का इस्तेमाल कर रहा है. बहुत से मल्टीविटामिन, महंगे एक्जोटिक फूड और सप्लिमेंट्स (Supplements) लोग अपने आहार में शामिल कर रहे हैं. लेकिन हमें यह देखने की भी जरूरत है कि प्रकृति ने हमें पहले से ही बेहद सस्ते विटामिन से भरपूर खाद्य पदार्थ दिएं हैं, जो हमें मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली दे सकते हैं.

5 विटामिन से भरपूर खाद्य पदार्थ हैं जो प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने में मदद करेंगे (Here are 5 vitamin-rich foods that will help boost immunity)

1. आंवला

आंवला या गूजबेरी स्थानीय हैं और इसे विटामिन सी से भरपूर माना जाता है. ये शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट और प्रतिरक्षा बढ़ाने वाला विटामिन है. विटामिन सी एंटीबॉडी प्रतिक्रिया और सफेद रक्त कोशिका के कार्य को बढ़ाने में मदद करता है. साथ ही एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध होने के कारण, आंवला संक्रमण के कारण उत्पन्न होने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव और मुक्त कणों को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है.

यह ज्यादातर आयुर्वेदिक नुस्खों में एक सामान्य घटक है और च्यवनप्राश नामक एक प्राचीन हर्बल तैयारी में एक प्राथमिक घटक है, जो स्वयं एक प्रभावी प्रतिरक्षा बूस्टर है और संक्रमण को रोकने में मदद कर सकता है. 

कैसे करें इस्तेमाल - अचार, चटनी, जूस, कैंडी, मुरब्बा.

p1bef0l8

आंवला या गूजबेरी स्थानीय हैं और इसे विटामिन सी से भरपूर माना जाता है.
Photo Credit: iStock

मोरिंगा (सहजन)

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि मोरिंगा यानी सहजन में 90 बायोएक्टिव यौगिक होते हैं और लगभग सभी विटामिन और खनिज होते हैं, जो इसे एक शक्तिशाली प्राकृतिक मल्टीविटामिन से कम नहीं बनाते हैं. यह प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, आयरन, क्रोमियम, मैग्नीशियम, सेलेनियम, जिंक से भरपूर होता है और इसमें उच्च स्तर के एंटीऑक्सीडेंट होते हैं. मोरिंगा विटामिन बी1, बी2 और बी3 का अच्छा स्रोत है. यह सेलुलर ऊर्जा को बढ़ावा देने में भी मदद करता है और इस प्रकार एक महान ऊर्जा बूस्टर के रूप में काम करता है.

सहजन एक शक्तिशाली इम्युनिटी बूस्टर है. यह पाया गया है कि मोरिंगा की पत्तियों में सभी आवश्यक अमीनो एसिड, जिंक, विटामिन सी और अन्य एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं. आप ठंड के उपाय के रूप में मोरिंगा के फूलों को पानी में उबालकर चाय बनाकर भी पी सकते हैं.

कैसे करें इस्तेमाल - करी, सूप, स्टफिंग, सांभर, सूखा पाउडर, जूस

What Happens During Menopause? | बात-बात पर आता है रोना, हो सकता है मेनोपॉज का लक्षण, जानें सबकुछ


3. शकरकंद

यह सस्ता और आसानी से मिलने वाला स्वीट कार्ब भी इम्युनिटी के लिए सुपरफूड है. वे विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत हैं, विटामिन बी 5, बी 7 और एंथोसायनिन आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने और हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

इसके अलावा फाइबर से भरपूर होने के कारण ये आंत के माइक्रोबायोम के लिए भी अच्छे होते हैं. शकरकंद में फाइबर और एंटीऑक्सिडेंट आंत के माइक्रोबायोम को बढ़ाते हैं और आंत के स्वास्थ्य में भी सुधार कर सकते हैं.

कैसे करें इस्तेमाल - सूप, परांठे या सैंडविच में स्टफिंग, उबालकर या मसला हुआ आलू जैसे ही खाया जाता है.

4. आम

हर मौसमी फल के अपने गुण होते हैं. प्रकृति सर्दियों में गर्म करने वाले खाद्य पदार्थ, गर्मियों में ठंडे खाद्य पदार्थ और मानसून में प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ प्रदान करती है. गर्मियों से मानसून में संक्रमण के समय आम आते हैं, केवल आगामी मानसून के खतरे से बचाव के लिए.

विटामिन सी से भरपूर फल होने के अलावा, सूक्ष्म पोषक तत्वों में विटामिन ई, विटामिन सी, बीटा-कैरोटीन, पोटेशियम, विटामिन डी, अधिकांश बी विटामिन (विटामिन बी 12 को छोड़कर) शामिल हैं.

इसके अतिरिक्त, आम में मौजूद विटामिन ए और विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में अहम भूमिका निभाते हैं. यह एक प्रोटीन है, जो त्वचा की कोशिकाओं को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी है. यह शरीर के संयोजी ऊतकों और रक्त वाहिकाओं की रक्षा करने में मदद करता है, जिससे त्वचा की चमक बढ़ती है, लोच बढ़ती है और प्राकृतिक उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है.

कैसे करें इस्तेमाल - पूरे फल के रूप में इसे खाएं. कच्चे आम के मामले में, दाल और करी में तीखापन जोड़ने के लिए आम पन्ना, चटनी में डालें.

g4odjupg

आम में मौजूद विटामिन ए और विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में अहम भूमिका निभाते हैं.
Photo Credit: iStock

5. कद्दू

भले ही ये आपको बोरिंग सब्जी लगे, लेकन ये एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ए, सी और ई से भरपूर हैं. जो प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले विटामिन भी हैं. 


कैसे करें इस्तेमाल -  कद्दू का सूप, सब्जी, करी, प्यूरी, स्टिर फ्राई

नोट: इनमें से कोई भी खाद्य पदार्थ किसी दवा या डॉक्टर की सलाह की जगह नहीं ले सकता. अगर आपको ऊपर बताए गए किसी भी भोजन से एलर्जी है, तो इससे बचना ही बेहतर है. स्वस्थ भोजन करें और अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने के लिए एक सक्रिय जीवन शैली का पालन करें.

(ल्यूक कॉटिन्हो, लाइफस्टाइल कोच हैं.)

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

How Much Vitamin D | Vitamin-D Side Effects: खतरनाक है विटामिन डी की ओवरडोज! हो सकते हैं ये नुकसान


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com