विज्ञापन
Story ProgressBack

सिर्फ मसाले ही नहीं, 527 भारतीय फूड प्रोडक्ट में कैंसर फैलाने वाला केमिकल, यूरोपीय यूनियन का दावा

भारतीय कंपनियों के चार मसालों में कैंसर पैदा करने वाला केमिकल मिलने के बाद सिंगापुर और हांगकांग में इसके इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की गई है.

Read Time: 3 mins
सिर्फ मसाले ही नहीं, 527 भारतीय फूड प्रोडक्ट में कैंसर फैलाने वाला केमिकल, यूरोपीय यूनियन का दावा
Indian Food: भारतीय मसाले में कैंसर पैदा करने वाले केमिकल.

मसाले भारतीय किचन में मौजूद सबसे जरूरी इंग्रीडिएंट्स में से हैं. क्योंकि भारत में मसाले के बिना खाना मानो अधूरा है. भारत के मसालों की चर्चा यूं तो सदियों से पूरी दुनिया में होती रही है लेकिन, इस बार मामला थोड़ा अलग है. भारतीय कंपनियों के चार मसालों में कैंसर पैदा करने वाला केमिकल मिलने के बाद सिंगापुर और हांगकांग में इसके इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की गई है. इसमें कहा गया है कि इन मसालों में एथिलीन ऑक्साइड नामक तत्व पाया गया है, जो कैंसर के लिए जिम्मेदार हो सकता है. चेतावनी जारी होने के बाद भारतीय मसालों पर बहस तेज हो गई है. इस बीच एक नई जानकारी सामने आई है कि जिस एथिलीन ऑक्साइड की वजह से भारतीय मसालों के खिलाफ सिंगापुर और हांगकांग में एक्शन लिया गया है, यूरोप जाने वाले भारतीय प्रोड्क्ट में भी ये केमिकल पाया जाता रहा है.

आपको बता दें कि यूरोपीय फूड सेफ्टी अथॉरिटी की जांच में लगातार भारतीय प्रोडक्ट में एथिलीन ऑक्साइड नामक पदार्थ मिलता रहा है, लेकिन इस केमिकल के इस्तेमाल में रोक के लिए यूरोपीय एजेंसी ने कोई उपाय नहीं किए. डेक्कन हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार, सितम्बर 2020 से अप्रैल 2024 के बीच यूरोपीय यूनियन के अंदर खाद्य सुरक्षा प्राधिकरणों ने भारत से जुड़े 527 फूड में एथिलीन ऑक्साइड की मात्रा पाई है. इन उत्पादों में अखरोट और तिल के बीज (313), औषिध और मसाले (60), फूड (48) और अन्य खाने वाले प्रोडक्ट (34) शामिल हैं. इन प्रोडक्ट में से 87 खेप को बॉर्डर से ही वापस भेज दिया गया जबकि अधिकांश को बाद में बाजार से हटा दिया गया.

ये भी पढ़ें-

332 प्रोडक्ट का भारत से सीधा संबंध-

रैपिड अलर्ट सिस्टम फॉर फूड एंड फीड (RASFF) एक ऑनलाइन सिस्टम है, जो यूरोपीय देशों में खाद्य सुरक्षा के मानकों पर नजर रखती है. इसका डेटा बताता है कि 525 फूड प्रोडक्ट और दो फीड प्रोडक्ट में केमिकल पाया गया है. इनमें 332 प्रोडक्ट ऐसे हैं, जिनका भारत से सीधा संबंध है, जबकि बाकी में दूसरे देशों को भी इसके लिए जिम्मेदार ठहराया गया है. 

क्या है एथिलीन ऑक्साइड? What Is Ethylene Oxide?

एथिलीन ऑक्साइड एक रंगीन गैस होती है, जिसका इस्तेमाल पेस्टीसाइड के तौर पर किया जाता है. बताया जाता है कि एथिलीन ऑक्साइड के संपर्क में आने से लिंफोमा और ल्यूकेमिया समेत दूसरे कैंसर होने का खतरा हो सकता है.

Cancer Symptoms You Shouldn't Ignore | महिलाओं में सबसे आम कैंसर, उनके शुरुआती लक्षण और बचाव के उपाय

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
शरीर को एनर्जेटिक रखने के लिए योग के बाद करें इन ड्रिंक्स का सेवन, कमजोरी नहीं होगी महसूस
सिर्फ मसाले ही नहीं, 527 भारतीय फूड प्रोडक्ट में कैंसर फैलाने वाला केमिकल, यूरोपीय यूनियन का दावा
क्या आप भी चाय के साथ बिस्कुट खाना पसंद करते हैं तो हो जाएं सावधान! न्यूट्रिशनिस्ट ने बताया इसे खाने के नुकसान
Next Article
क्या आप भी चाय के साथ बिस्कुट खाना पसंद करते हैं तो हो जाएं सावधान! न्यूट्रिशनिस्ट ने बताया इसे खाने के नुकसान
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;