Surya Grahan 2021: आज लगने वाला है सूर्य ग्रहण, क्या इस समय नहीं करने चाहिए ये काम? ऐसी हैं मान्यताएं

Surya Grahan 2021 In India: साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण आज 10 जून को लगने जा रहा है. 15 दिनों के भीतर आज इस साल का दूसरा ग्रहण लगने वाला है. इससे पहले 26 मई को चंद्र ग्रहण लगा था.

Surya Grahan 2021: आज लगने वाला है सूर्य ग्रहण, क्या इस समय नहीं करने चाहिए ये काम? ऐसी हैं मान्यताएं

Surya Grahan 2021: आज लगने वाला है साल का पहला सूर्य ग्रहण.

नई दिल्ली:

Surya Grahan 2021 In India Beliefs: साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण आज 10 जून को लगने जा रहा है. 15 दिनों के भीतर आज इस साल का दूसरा ग्रहण लगने वाला है. इससे पहले 26 मई को चंद्र ग्रहण लगा था. सूर्य ग्रहण आज शनि जयंती और वट सावित्री व्रत के दिन लग रहा है, जिससे इस ग्रहण का धार्मिक महत्व अधिक बढ़ गया है. यह ग्रहण एक 'रिंग ऑफ फायर' या वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा. यानी ग्रहण के समय कुछ हिस्सों में रिंग ऑफ फायर (Ring of Fire) बनती हुई नजर आएगी.

भारत में कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण?
सूर्य ग्रहण भारत में केवल अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ हिस्सों में ही सूर्यास्त से कुछ समय पहले दिखाई देगा. इसके अलावा भारत में यह ग्रहण दिखाई नहीं देगा.

सूर्य ग्रहण किस समय लगेगा?
भारतीय समयानुसार पूर्वाह्न 11:42 बजे आंशिक सूर्य ग्रहण होगा और यह अपराह्न 3:30 बजे से वलयाकार रूप लेना शुरू करेगा. इसके बाद फिर शाम 4:52 बजे तक आकाश में सूर्य अग्नि वलय (आग की अंगूठी) की तरह दिखाई देगा. सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार शाम लगभग 6:41 बजे समाप्त होगा.

सूर्य ग्रहण के वक्त नहीं करने चाहिए ये काम
1.  मान्यता है कि ग्रहण काल में खान-पान, शोर मचाना या किसी भी तरह का शुभ कार्य नहीं करना चाहिए.

2. हालांकि, आप चाहें तो इस दौरान गुरु मंत्र का जाप, किसी भी मंत्र की सिद्धी, रामायण, सुंदरकांड का पाठ आदि कर सकते हैं.

3. भारतीय मान्यताओं के अनुसार, ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. माना जाता है कि ग्रहण काल में सूर्य की पराबैंगनी किरणें निकलती हैं. यह किरणें गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक होती हैं.
 
4. हिंदू मान्यताओं के अनुसार, ग्रहण खत्म होने के बाद पवित्र नदियों में स्नान कर के शुद्धिकरण करना चाहिए.

5. मान्यता यह भी है कि ग्रहण के समय घर में मौजूद खाने की सभी चीजों में तुलसी के पत्ते या फिर घांस डाल देनी चाहिए.


6. हिंदू मान्यताओं के अनुसार, ग्रहण में घर के मंदिर को सूतक काल लगने से पहले ही पर्दे से ढक दिया जाता है या फिर उसके कपाट बंद कर दिए जाते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


7. मान्यता है कि ग्रहण खत्म होने के बाद मन की शुद्धि के लिए दान-पुण्य करना चाहिए.