Delhi: पिता ने बेटी को परेशान करने वाले की हत्या की, रिक्शे में रखकर शव को ठिकाने लगाते समय गिरफ्तार

शव की जांच की तो उन्हें बाएं हाथ पर हिंदी में महाकाल का टैटू लिखा हुआ मिला और एयरपोर्ट पार्किंग की एक स्लिप भी मिली है, जो 22 जुलाई की है.

Delhi: पिता ने बेटी को परेशान करने वाले की हत्या की, रिक्शे में रखकर शव को ठिकाने लगाते समय गिरफ्तार

हत्या कर रिक्शे में ले जा रहा था शव

नई दिल्ली:

दिल्ली के महिपालपुर इलाके में एक पिता ने अपनी बेटी को परेशान और उसके साथ छेड़खानी करने वाले शख्स की झगड़े के बाद  हत्या कर दी. हत्या के बाद आरोपी मृतक के शव को रिक्शे में रखकर ठिकाने लगाने जा रहा था. इसी बीच पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. आरोपी सिक्योरिटी गार्ड का काम करता है. जिस बिल्डिंग में आरोपी सिक्योरिटी गार्ड के रूप में काम करता है वहीं पर उसका मृतक से झगड़ा हो गया था, जिसके बाद उसने गला दबाकर हत्या कर दी.  

दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के डीसीपी इंगित प्रताप सिंह के मुताबिक, शनिवार तड़के पेट्रोलिंग पर निकले एक पुलिसकर्मी की नजर एक रिक्शे पर पड़ी. रिक्शे पर एक शव रखा हुआ था. पुलिसकर्मी ने रिक्शा रोककर शव बरामद कर पीसीआर कॉल कर बताया कि हत्या करने के बाद एक शख्स शव को रिक्शे पर ले कर जा रहा जा रहा था जिसे मैंने पकड़ लिया है. इस कॉल के तुरंत बाद पुलिस की एक टीम मौके पर मौके पर पहुंची.

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने जब शव की जांच की तो उन्हें बाएं हाथ पर हिंदी में महाकाल का टैटू लिखा हुआ मिला और एयरपोर्ट पार्किंग की एक स्लिप भी मिली है, जो 22 जुलाई की है. मृतक की पहचान 25 साल के संतोष कुमार झा के तौर पर हुई,वो महिपालपुर में ही रहता था और कुरियर कंपनी में ड्राइवर था.

पुलिस ने सुरमेष जो कि रिक्शा चला रहा था, उसको हिरासत में लेकर जब पूछताछ शुरू की तो उसने पुलिस को बताया कि वह महिपालपुर इलाके में एक बिल्डिंग में गार्ड का काम करता है. वहीं पर बेसमेंट पार्किंग में यह शख्स बीती रात अचानक से पहुंच गया और नशे में था और वह उससे झगड़ा करने लगा. इसी बात पर उसे गुस्सा आ गया और उसने एक जोर का घूंसा पहले पीड़ित के चेहरे पर मारा और जब वह गिर पड़ा तो उसकी गला दबाकर हत्या कर दी. 


पुलिस के अनुसार, आरोपी ने बताया कि रात के वक्त उसने शव को बेसमेंट में छिपा दिया और तड़के करीब 4 बजे वह रिक्शे पर डाल कर शव को ठिकाने लगाने ले जा रहा था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस के मुताबिक, सुरमेष ने संतोष की हत्या इसलिए कि क्योंकि संतोष सुरमेष की बेटी को पिछले 3 साल से लगातार परेशान कर रहा था. बेटी जब भी बाहर निकलती थी, उसका पीछा करता था. 22 जुलाई को आरोपी शराब पीकर सुरमेष के पास आया ,सुरमेष से उसका इसी बात को लेकर झगड़ा हुआ.