नेशनल कॉन्‍फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्‍या के मामले में एक गिरफ्तार, पुलिस ने जम्‍मू से किया अरेस्‍ट

वेस्ट डिस्ट्रिक्ट की पुलिस ने राजू को जम्मू से पकड़ा है, क्योंकि मामला  क्राइम ब्रांच का पास है, इसलिए राजू की कस्टडी क्राइम ब्रांच के पास रहेगी.

नेशनल कॉन्‍फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्‍या के मामले में एक गिरफ्तार, पुलिस ने  जम्‍मू से किया अरेस्‍ट

नई दिल्‍ली:

नेशनल कॉन्फ्रेंस (National conference)के नेता त्रिलोचन सिंह वज़ीर (Trilochan Singh Wazir) की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस ने जम्मू से राजेन्द्र उर्फ राजू को गिरफ्तार किया है. वेस्ट डिस्ट्रिक्ट की पुलिस ने राजू को जम्मू से पकड़ा है, क्योंकि मामला  क्राइम ब्रांच का पास है, इसलिए राजू की कस्टडी क्राइम ब्रांच के पास रहेगी.राजू पेशे से टैक्सी ड्राइवर है और हरप्रीत सिंह खालसा का करीबी है.त्रिलोचन सिंह  2 सितंबर को फ्लाइट से जम्मू से दिल्ली आए थे जबकि वज़ीर के कपड़े लेकर 3 सितम्बर को रोड के जरिये राजू दिल्ली आया था. राजू मुम्बई में टैक्सी चलाता था, जिसे हरप्रीत ने अगस्त में अपने पास बुला लिया था. 


गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह वज़ीर का शव दिल्‍ली के मोती नगर इलाके के बसई दारापुर में एक फ्लैट में सड़ी-गली  हालत में बरामद किया गया था. 67 साल के त्रिलोचन सिंह ट्रांसपोर्टर भी थे. जानकारी के अनुसार, त्रिलोचन सिंह 1 सितंबर को जम्मू से निकले थे. 3 सितंबर को उन्हें दिल्ली से कनाडा जाना था तब से वे गायब थे. दिल्ली के बसई दारा पुर इलाके से 9 सितंबर को पुलिस को खबर मिली कि एक फ्लैट के अंदर से बदबू आ रही है. जिसके बाद पुलिस की एक टीम  मकान की तीसरी मंजिल पर पहुंची.वहां उन्हें एक फ्लैट के बाहर ताला लगा मिला था लेकिन अंदर से बहुत तेज बदबू आ रही थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस टीम जब दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची थी तो देखा अंदर एक सड़ी गली हालत में लाश पड़ी हुई है. लाश के पास एक मोबाइल फोन था और जब पुलिस ने उस फोन की जांच की तो पता चला यह मोबाइल फोन नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह वजीर का है.जैसे ही पुलिस को यह कन्फर्म हुआ कि यह लाश त्रिलोचन सिंह की है, तुरंत दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए और मामले की जांच शुरू कर दी थी.