T20 World Cup: हार्दिक ने बयां किया धोनी के साथ रिश्ता, बुरे दिनों में माही ने ऐसे की मदद

T20 World Cup: हार्दिक ने कहा, ‘मैं अपनी कमियां स्वीकार करता हूं. करियर के शुरुआती दो साल में काफी भटकाव था लेकिन हमारा परिवार एक दूसरे के काफी करीब है. परिवार में एक चीज साफ है कि मैं गलत हूं, तो गलत हूं.

T20 World Cup: हार्दिक ने बयां किया धोनी के साथ रिश्ता, बुरे दिनों में माही ने ऐसे की मदद

T20 World Cup: हार्दिक पंड्या इस समय खासे मुश्किल समय से गुजर रहे हैं

खास बातें

  • मु्श्किल समय से गुजर रहे हैं हार्दिक पंड्या
  • विश्व कप टीम में चयन को लेकर उठ रहे सवाल
  • वॉर्म-अप मैचों में साबित करने का मौका
दुबई:

भारत के स्टार हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) का मानना है कि टी20 विश्व कप (T20 World Cup) उनके कैरियर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है क्योंकि ‘लाइफ कोच और भाई 'महेंद्र सिंह धोनी की गैर मौजूदगी में एक ‘फिनिशर' के तौर पर सारा भार उनके कंधों पर होगा. एक निजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में पंड्या नेअपने जीवन की कई चुनौतियों और धोनी के साथ असाधारण तालमेल पर बात की. पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले धोनी के बिना भारत का यह पहला टी20 विश्व कप है. भारत को पहले मैच में 24 अक्टूबर को पाकिस्तान से खेलना है. धोनी को टूर्नामेंट के लिये टीम का मेंटोर बनाया गया है.

पंड्या ने कहा,‘यह कैरियर की सबसे बड़ी चुनौती है क्योंकि इस बार महेंद्र सिंह धोनी नहीं है. सब कुछ मेरे कंधों पर है. मैं इसी तरह से सोचता हूं क्योंकि इससे मेरे लिये चुनौती बढ़ जाती है. यह रोमांचक टूर्नामेंट होगा. धोनी के बारे में उन्होंने कहा कि हालात अनुकूल नहीं होने पर , परेशानी में या खुद को समझने के लिये वह धोनी के पास जाते हैं. उन्होंने कहा,‘एम एस मुझे शुरू ही से समझते आये हैं. मैं कैसे काम करता हूं, या मैं कैसा इंसान हूं. मुझे क्या पसंद नहीं है , सब कुछ.' पंड्या ने बताया कि एक टीवी शो पर विवादास्पद टिप्पणी के बाद निलंबन पूरा करके जब वह 2019 में न्यूजीलैंड दौरे पर वापसी कर रहे थे, तो धोनी ने उनसे बात की.

विराट ने पहली बार बतायी अश्विन को शामिल और चहल को विश्व कप टीम में न लेने की वजह

बीसीसीआई ने पूरी की आवेदन आमंत्रण की औपचारिकता, द्रविड़ बनेंगे सबसे पावरफुल कोच, देखें शर्तें

द्रविड़ के कोच बनने पर विराट कोहली ने दिया यह जवाब

भारत पहले वॉर्म-अप मैच में इंग्लैंड से भिड़ेगा, विराट को तलाशने होंगे इन 5 सवालों के जवाब

फिलहाल बॉलिंग न करने के लिए आलोचकों के निशाने पर आए इस ऑलराउंडर ने कहा,‘शुरू में मेरे लिये कोई होटल रूम नहीं था. फिर मुझे फोन आया कि यहां आ जाओ. एमएस ने कहा कि वह बिस्तर पर नहीं सोते हैं. वह नीचे सोएंगे और मैं उनके बिस्तर पर. वह पहले व्यक्ति हैं जो हमेशा साथ थे. वह मुझे गहराई से जानते हैं. मैं उनके काफी करीब हूं. वही मुझे शांत रख सकते हैं.' हार्दिक बोले, ‘जब यह सब हुआ, उन्हें पता था कि मुझे सहयोग की जरूरत है. मुझे एक कंधा चाहिये था जो मेरे क्रिकेट कैरियर में उन्होंने मुझे कई बार दिया. मैंने उन्हें एमएस धोनी , एक महान क्रिकेटर के रूप में कभी नहीं देखा. मेरे लिए वह मेरे भाई हैं.' पंड्या ने कहा कि कई बार वह अपने ही ख्यालों में उलझ जाते थे और धोनी ऐसे में उनकी मदद करते थे'.

उन्होंने कहा, ‘मैं उन्हें फोन करके कहता था कि ये सोच रहा हूं , क्या चल रहा है बताओ. फिर वह बताते थे. मेरे लिये वह लाइफ कोच हैं. उनके साथ रहकर आप परिपक्व और विनम्र होना सीखते हैं.'पंड्या ने स्वीकार किया कि वह कभी परफेक्ट नहीं थे, लेकिन उनके परिवार ने सुनिश्चित किया कि उनके पैर हमेशा जमीन पर रहें. 


हार्दिक ने कहा, ‘मैं अपनी कमियां स्वीकार करता हूं. करियर के शुरुआती दो साल में काफी भटकाव था लेकिन हमारा परिवार एक दूसरे के काफी करीब है. परिवार में एक चीज साफ है कि मैं गलत हूं, तो गलत हूं. हर कोई अपनी राय देता है और अगर कोई भटकने लगता है तो उसके पैर जमीन पर रखने में परिवार मदद करता है.' उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें पता है कि सभी की नजरें उन पर होती हैं. मैं सुर्खियों में रहना नहीं चाहता लेकिन ऐसा हो जाता है. जब मैं मैदान पर जाता हूं तो सभी की नजरें मुझ पर होती हैं क्योंकि उन्हें पता है कि मैं फॉर्म में रहा तो अपने दम पर मैच जिता सकता हूं.'
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: ICC T20 World Cup : महेंद्र सिंह धोनी होंगे टीम इंडिया के मेंटॉर, BCCI ने किया ऐलान . ​