IND vs ENG, 4th T20I: भारत 8 रन से जीता, सीरीज में मेजबान आए 2-2 की बराबरी पर

IND vs ENG 4th T20i: इंग्लैंड को आखिरी तीन गेंदों पर दस रन बनाने थे और जब चौथी गेंद पर आर्चर बड़ा शॉट लगाने से चूके, तो खिलाड़ियों सहित करोड़ों भारतीय फैंस ने राहत की सांस ली. यहां से दो गेंदों पर इंग्लैंड को 9 रन की दरकार थी, लेकिन ये रन नहीं बने और इंग्लैंड कोटे के 20 ओवरों में 8 विकेट पर 177 रन ही बना सका और भारत ने यह मुकाबला 8 रन से जीतकर खुद को 2-2 की बराबर पर ला दिया.

IND vs ENG, 4th T20I:  भारत 8 रन से जीता, सीरीज में मेजबान आए 2-2 की बराबरी पर

IND vs ENG T20i: शार्दूल ठाकुर ने लगातार दो गेंदों पर विकेट चटकाकर मैच का रुख बदल दिया

अहमदाबाद:

India vs England 4th T20I: भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में मेजबान टीम विराट इंग्लैंड को 8 रन से मात देकर सीरीज में 2-2 की बराबरी पर आ गयी है.टीम इंडिया की जीत में मैन ऑफ द मैच सूर्यकुमार यादव (57 रन, 31 गेंद, 6 चौके, 3 छक्के) के अलावा गेंदबाजों ने जरूरत पर बहुत ही उम्दा प्रदर्शन से अपना योगदान दिया.  टीम इंडिया से मिले 186 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड शुरुआत से ही संघर्ष करता दिखायी पड़ा  उसके लिए जेसन रॉय ने एक छोर पर 40 रन बनाए, लेकिन दूसरे छोर से उन्हें मदद नहीं मिली. एक समय इंग्लैंड के लिए तब उम्मीद की किरण दिखीं, जब बेन स्टोक्स (46) रन पिच पर थे, लेकिन पारी के 17वें ओवर की शुरुआती दो गेंद शार्दूल ठाकुर ने लगातार दो गेंदों पर विकेट चटकाए, तो यहां से इंग्लैंड पिछड़ता ही चला गया. मैच में एक समय तब रोमांच आया, जब  इंग्लैंड को आखिरी ओवर में जीत के लिए 23 रन बनाने थे और जोफ्रा आर्चर ने लगातार चौका और छक्का जड़कर डगआउट में बैठे भारतीय मैनेजमेंट के माथे पर चिंता की लकीरें गहरा दीं.

इंग्लैंड को आखिरी तीन गेंदों पर दस रन बनाने थे और जब चौथी गेंद पर आर्चर बड़ा शॉट लगाने से चूके, तो खिलाड़ियों सहित करोड़ों भारतीय फैंस ने राहत की सांस ली. यहां से दो गेंदों पर इंग्लैंड को 9 रन की दरकार थी, लेकिन ये रन नहीं बने और इंग्लैंड कोटे के 20 ओवरों में 8 विकेट पर 177 रन ही बना सका और भारत ने यह मुकाबला 8 रन से जीतकर खुद को 2-2 की बराबर पर ला दिया. शुरुआती पाली में भारत ने सूर्यकुमार यादव (57) की पारी से भारत ने इंग्लैंड  से न्योता पाने के बाद कोटे के 20 ओवर में 8 विकेट पर 185 का स्कोर खड़ा किया था, जिसे  विशेषज्ञ पिच के हिसाब से 15-20 रन कम बता रहे थे, लेकिन भारतीय बॉलरों खासकर हार्दिक पंड्या ने बहुत ही शानदार गेंदबाजी की और इंग्लैंड को हार झेलने पर मजबूर कर दिया. अब निर्णायक मुकाबला रविवार को खेला जाएगा. अपने करियर के दूसरे ही अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में 31 गेंदों पर 57 रन की पारी खेलने वाले सूर्यकुमार यादव को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

SCORE BOARD

इससे पहले इंग्लैंड की शुरुआत भी भारत की तरह खराब रही. इंग्लैंड को आतिशी ओपनर जोस बटलर (9) को भुवेश्वर कुमार ने तीसरे ओवर में ही चलता कर दिया. जेसन राय ने पावर-प्ले में अच्छा खेल दिखाया और स्कोर को पचास के पार ले गए, लेकिन आठवें ओवर में करियर का दूसरा मैच खेल रहे राहुल चाहर ने मलान को बोल्ड कर इंग्लैंड को दूसरा झटका दिया. थोड़ी  देर बाद ही जमकर खेल रहे जेसन रॉय (40) पंड्या की धीमी गेंद पर गच्चा खा गए और मिडऑन पर लपके गए. बहुत ही आतिशी मूड में आ चुके जॉनी बैर्यस्टो भी  25 रन बनाकर राहुल चाहर का शिकार बने. इंग्लैंड को दो बड़े झटके शार्दूल ठाकुर ने दिए, जब 17वें ओवर में उन्होंने लगातार दो गेंदों पर बैर्यस्टो और कप्तान मॉर्गन को चलता किया. पहली गेंद पर बेन स्टोक्स बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में आउट हुए, तो ठीक अगली ही गेंद पर कप्तान मोर्गन शार्दूल की स्लोअर गेंद पर फंस गए. हार्दिक पंड्या ने 18वें ओवर की आखिरी गेंद पर सैम कुरेन को बोल्ड करके इंग्लैंड को सातवां झटका दिया. 

राय ने पावर-प्ले का पलड़ा झुकाया !

वास्तव में चौथे मैच की जैसी पिच थी, उसके हिसाब से भारतीय गेंदबाजों ने पावर-प्ले के शुरुआती छह ओवरों में अच्छी शुरुआत की. भुवनेश्वर ने पहला ओवर मेडेन निकाला, तो हार्दिक पंड्या ने भी दूसरा ओवर अच्छा निकाला. और जब तीसरे ओवर में भुवनेश्वर ने आतिशी जोस बटलर को आउट कर सोने पर सुहागे का काम किया, तो लगा कि पावर-प्ले की लड़ाई में भारतीय गेंदबाजों ने बाजी मार ली है, लेकिन छठे ओवर में जेसन राय ने पलड़ा इंग्लैंड की ओर झुका दिया. और निशाना बने वॉशिंगटन सुंदर. कप्तान विराट कोहली की सुंदर को पावर-प्ले में बुलाने की चाल उल्टी पड़ गयी. और इस ओवर में जेसन रॉय ने दो चौके और एक छक्का जड़ते हुए 17 रन बटोर लिए. इससे इंग्लैंड का स्कोर 6 ओवरों में 1 विकेट पर 48 रन हो गया और पलड़ा फिर से इन ओवरों में इंग्लैंड की ओर झुक गया. राय 22 गेंदों पर 33 रन बनाकर नाबाद थे. 

इससे पहले शुरुआती विकेट जल्द ही गिर जाने के बाद भारत को 185 के स्कोर तक पहुंचाने में अहम रोल निभाया सिर्फ दूसरा मुकाबला खेल रहे सूर्यकुमार यादव (57) ने. और उन्हें अच्छा  सहारा दिया ऋषभ पंत (30) और श्रेयस अय्यर (37) ने. सितारा बल्लेबाजों की नाकामी के बीच यह इन्हीं बल्लेबाजों का योगदान रहा कि भारत इस मैच में कोटे के 20 ओवरों में 8 विकेट पर 185 रनों तक पहुंचने में कामयाब रहा. इंग्लैंड के लिए जोफ्रा आर्चर ने बेहतरीन गेंदबाजी की और उन्होंने आखिरी ओवर में चटकाए दो सहित कुल चार विकेट लिए. शुरुआत भारत की खराब रही थी और रोहित शर्मा (12) जल्द ही आउट हो गए. उन्हें जोफ्रा आर्चर ने अपनी  ही गेंद पर लपका, तो पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवर) खत्म होने के बाद केएल राहुल भी खुलने की कोशिश में चलते बने. सीरीज में केएल राहुल पहली बार अच्छी लय में तिखे, लेकिन पारी को खींच नहीं सके. राहुल के आउट होने के बाद कप्तान विराट (1) भी चलते बने और आदिल राशिद को मिडऑफ के ऊपर से उड़ाने की कोशिश में स्टंप हो गए. लेकिन  सूर्यकुमार यादव ने आउट होने से पहले अपने दूसरे ही मुकाबले में बेहतरीन अर्द्धशतक बनाया. फैंस के लिए निराशाजनक यह रहा कि 17वें ओवर में पंत 30 रन बनाकर आर्चर की गेंद पर बोल्ड हो गए. अगर पंत नॉटआउट लौटते, तो यह स्कोर में अंतर पैदा करता. सीरीज में ज्यादा बल्लेबाजी का मौका न मिलने का असर हार्दिक के खेल पर दिखायी पड़ा और वह सिर्फ 11 रन बनाकर लौट गए. अय्यर ने आखिरी ओवर में आउट होने से पहले अच्छे 37 रन का योगदान दिया. वाशिंगटन  सुंदर भी आठवें विकेट के रूप में आखिरी ओवर में आउट हुए. इंग्लैंड के गेंदबाजों ने आखिरी तीन-चार ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की और इसका नतीजा यह रहा कि एक समय दो सौ के पास पहुंचता दिख रहे भारत के स्कोर का मीटर 185 पर रुक गया. 

सूर्यकुमार के क्या कहने !

कहीं से नहीं लगा कि सूर्यकुमार अपना सिर्फ दूसरा अंतरराष्ट्रीय टी20 मुकाबला खेल रहे हैं. सूर्य के रवैये से लगा  कि मानो  वह मुंबई इंडियंस के लिए कोई आईपीएल मुकाबला खेल रहे हैं. कोई दबाव नहीं, रत्ती भर भी झिझक नहीं!  चौथे ओवर में जोफ्रा आर्चर की अपनी पहली ही गेंद पर ऐसा छक्का जड़ा कि सभी की आंखें खोल दीं !! और फिर यहां से सूर्यकुमार ने लगातार अपनी एप्रोच और स्ट्रोकों से आंखें खोलना जारी रखा. गजब का आत्मविश्वास और लय से कोई समझौता नहीं और जब भी मौका मिला, गेंद को ठिकाने पर पहुंचा दिया और सिर्फ 28 गेंदों पर 6 चौकों और 2 छक्कों से अपने करियर का पहला अर्द्धशतक जड़ते हुए एक तरह से टी20 टीम में अपने नाम की भी मुहर लगा दी.

रोहित चूके, पर सूर्यकुमार ने दिखायी पावर
चौथे मुकाबले में इस पिच को अगर अभी तक के मुकाबलों की सबसे अच्छी और आसान पिच करार दिया जाए, तो गलत नहीं होगा. गेंद बल्ले पर अच्छी तरह आ रही है, न बाउंस और न ही तेजी. जाहिर है कि पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवरों) में किसी भी टीम को ज्यादा से ज्यादा रन बटोरना एक अच्छी बात थी. रोहित ने राशिद की पहली ही गेंद पर चक्का जड़कर इरादे भी साफ कर दिए थे, लेकिन उनकी पारी जल्द ही खत्म हो गयी, जब वह चौथे ओवर में आर्चर की गेंद पर उन्हीं के हाथों लपके गए, लेकिन सूर्यकुमार के आत्मविश्वास के क्या कहने! खेली आर्चर की पहली ही गेंद पर अपने ही अंदाज में फाइनल लेग के ऊपर से छ्क्का जड़कर सूर्यकुमार ने एप्रोच भी दिखा दी और पावर भी. सूर्य ने डगआउट में बैठे बल्लेबाजों को बता दिया कि इस पिच पर क्या एप्रोच होनी चाहिए. सूर्यकुमार के ही तेवर थे कि भारत पावर-प्ले में 1 विकेट पर सात रन प्रति ओवर की दर से 45 रन बनाने में सफल रहा. इसमें सूर्य का योगदान 10 गेंदों पर 16 रन था. दो चौकों और एक छक्के से!

इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्ला थमाया.  इस मुकाबले के लिए इंग्लैंड की टीम पिछले मैच वाली ही है, लेकिन भारत ने इलेवन में दो बदलाव किए. युजवेंद्र चहल की जगह लेग स्पिनर राहुल चाहर आए, तो ईशान किशन की जगह सूर्यकुमार यादव को चुना गया. ईशान किशन की मांसपेशियों में पिछले मैच में  खिंचाव आ गया था और उन्हें पूरी तरह उबरना बाकी है. राहुल चाहर को परखना एक अच्छा फैसला है क्योंकि युजवेंद्र चहल पिछले तीन मैचों में उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे. चहल की पिटायी भी अंग्रेज बल्लेबाजों ने उनकी कटाई भी खासी जमकर करी. यही वजह रही कि मैनेजमेंट ने राहुल को परखने का फैसला किया, जिनका भारत के लिए यह सिर्फ दूसरा टी20 मैच रहा. राहुल ने आईपीेएल में खासा प्रभावित किया था और इंग्लैंड के खिलाफ दो विकेट चटकाकर भी उन्होंने अपने चयन को सही साबित किया. वहीं, इस मैच में एक और अच्छी बात सूर्यकुमार यादव को फिर से इलेवन में मौका मिलना रहा, जिन्हें तीसरे मैच में नहीं खिलाया गया था. इसके लिए मैनेजमेंट को खासी आलोचना झेलनी पड़ी थी क्योंकि दूसरे मैच में उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला था. और जब सूर्यकुमार को मौका मिला, तो उन्होंने इसे दोनों हाथों से भुनाया और मैन ऑफ द मैच के साथ एक ऐसी पारी खेली, जिसके बाद सूर्यकुमार को टी20 मैचों से बाहर बैठाना बहुत ही मुश्किल होगा.  

चलिए चौथे मैच में खेल रही दोनों देशों की इलेवन पर नजर दौड़ा लीजिए:-

भारत:  1. विराट कोहली (कप्तान) 2. रोहित शर्मा. 3. सूर्यकुमार यादव 4. ऋषभ पंत 5. श्रेयस अय्यर 6. सूर्यकुमार यादव 7. हार्दिक पंड्या 8. वॉशिगंटन सुंदर 9. शार्दूल ठाकुर 10. भुवनेश्वर कुमार 11. राहुल चाहर


इंग्लैंड: 1. इयॉन मोर्गन 2. जेसन रॉय 3. जोस बटलर 4. डेविड मलान 5. जॉनी बैर्यस्टो 6. बेन स्टोक्स 7. सैम कुरेन 8. क्रिस जॉर्डन 9. जोफ्रा आर्चर 10. आदिल राशिद 11. मार्क वुड
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ ही दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.