चुनावी नतीजों के बाद पहली बार बोले NDA के सहयोगी चिराग पासवान, 'अब बीजेपी को एनडीए का एजेंडा सेट करने की जरूरत'

चिराग पासवान ने कहा- लोकसभा चुनाव में एलजेपी को सम्मानजनक सीटें मिंलेंगी, इतनी हम अपेक्षा करते हैं

चुनावी नतीजों के बाद पहली बार बोले NDA के सहयोगी चिराग पासवान, 'अब बीजेपी को एनडीए का एजेंडा सेट करने की जरूरत'

एलजेपी के सांसद चिराग पासवान गुरुवार को पटना पहुंचे और संवाददाताओं से बात की.

खास बातें

  • प्राथमिकता एनडीए को मजबूत और नरेंद्र मोदी को फिर से पीएम बनाना
  • पांच राज्यों के चुनावी नतीजों पर मंथन करने की जरूरत
  • राम मंदिर निर्माण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मेान करेंगे
पटना:

देश के पांच राज्यों के चुनावी नतीजों के बाद पहली बार एनडीए के घटक दल एलजेपी के सांसद चिराग पासवान पटना पहुंचे. पटना एयरपोर्ट पर चिराग पासवान ने एनडीए में लोकसभा चुनाव को लेकर चल रही सीट शेयरिंग की ताजा स्थिति बताई. साथ ही राम मंदिर पर बयान देने वाले बीजेपी नेताओं को नसीहत भी दी. 

एनडीए में सीट शेयरिंग पर चिराग पासवान ने कहा कि पांच राज्यों में चुनाव थे, इसलिए सीट शेयरिंग को लेकर बीजेपी के नेताओं से मुलाकात नहीं हो पाई थी. उम्मीद है एक-दो दिनों में मुलाकात होगी और यह मुलाकात फाइनल राउंड के लिए होगी. 

जेडीयू और बीजेपी के बीच 17-17 के फॉमूले पर चिराग ने कहा कि अभी किसी भी संख्या का जिक्र नहीं करूंगा. जब तक एनडीए में कुछ भी फाइनल न हो जाए.  एलजेपी के लिए जो भी सीट होंगी, सम्मानजनक सीटें होगी. इतनी हम अपेक्षा करते हैं. 

यह भी पढ़ें : लोजपा नेता चिराग पासवान का केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा पर निशाना, बोले- 'दो नावों की सवारी' ठीक नहीं

चिराग ने कहा कि मेरी प्राथमिकता एनडीए को मजबूत और नरेंद्र मोदी को फिर से पीएम बनाना है. एलजेपी के सीटों में प्लस या माइनस जो ही हो, हम मिल बैठकर तय कर लेंगे. उन्होंने कहा कि अब बीजेपी को एनडीए का एजेंडा सेट करने की जरूरत है. एनडीए का मोटो हमेशा डेवलपमेंट रहा है. और जब इस पर  कहीं न कहीं राम मंदिर और हनुमान हावी होने लगते हैं, तो जनता भी एजेंडे से भ्रमित होने लगती है. 

VIDEO : बिहार एनडीए में सीटों पर समझौता

राम मंदिर निर्माण पर उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला आएगा, हम उसका सम्मान करेंगे. राम मंदिर के लिए अध्यादेश पर समर्थन करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इसकी कोई बात नहीं कर रहा है. जिस तरीके के चुनावी नतीजे सामने आए हैं उस पर मंथन करने की जरूरत है. हमें 2019 में और तैयारी के साथ उतरने की जरूरत है.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com