बिहार: पूर्णिया के शक्ति मलिक हत्याकांड का खुलासा, सात गिरफ्तार

हत्या राजनीतिक साजिश के तहत नहीं हुई थी बल्कि सूद के पैसे लेन-देन में हुई थी, हत्याकांड का मास्टर माइंड आफताब

बिहार: पूर्णिया के शक्ति मलिक हत्याकांड का खुलासा, सात गिरफ्तार

पूर्णिया में पुलिस ने शक्ति मलिक हत्याकांड का खुलासा किया.

पटना:

बिहार के पूर्णिया के शक्ति मलिक हत्याकांड का खुलासा हो गया है. एसपी ने प्रेस वार्ता करके हत्याकांड का खुलासा किया.
इस मामले में आधा दर्जन से अधिक आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं. हत्या राजनीतिक साजिश के तहत नहीं हुई थी बल्कि सूद के पैसे लेन-देन में हुई थी. इस हत्याकांड का मास्टर माइंड आफताब है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

पूर्णिया के चर्चित दलित नेता शक्ति मलिक की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. इस मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजश्वी यादव,तेजप्रताप यादव, राजद नेता अनिल साधु को मृतक की पत्नी के बयान के आधार पर चार सितम्बर को नामजद अभियुक्त बनाया गया था. तेजश्वी का नाम आने के बाद मामले  ने राजनीतिक शक्ल अख्तियार कर ली थी. मृतक की पत्नी ने आरोप लगाया था कि राजनीतिक कारणों से उसके पति की हत्या करवाई गई है. 


एसपी विशाल शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि शक्ति सूद पर पैसे का कारोबार करता था और समय पर पैसे नहीं लौटने पर लोगों से न केवल मनमाना पैसा वसूलता था बल्कि उनको प्रताड़ित भी किया करता था. ऐसे ही प्रताड़ितों मे शामिल आफताब ने अन्य लोगों के साथ मिलकर शक्ति की हत्या कर दी. हत्या में शामिल सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि इस मामले को लेकर खुद तेजश्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार को पत्र लिखकर सीबीआई जांच की मांग की थी.