बिहार: BJP सांसद बोले- ड्राइवर नहीं होने के कारण खड़ी हैं एंबुलेंस, तो ड्राइवरों की टीम लेकर पहुंचे पप्पू यादव

बिहार के सारण में बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के दफ्तर में मिली एंबुलेंस का मामला गरमाता जा रहा है. शनिवार को पप्पू यादव ड्राइवरों की पूरी टीम के साथ मीडिया के सामने आए.

बिहार: BJP सांसद बोले- ड्राइवर नहीं होने के कारण खड़ी हैं एंबुलेंस, तो ड्राइवरों की टीम लेकर पहुंचे पप्पू यादव

ड्राइवरों की टीम के साथ पप्पू यादव

सारण:

बिहार के सारण में बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के दफ्तर में मिली एंबुलेंस का मामला गरमाता जा रहा है. शनिवार को पप्पू यादव ड्राइवरों की पूरी टीम के साथ मीडिया के सामने आए. उन्होंने दावा किया कि उनके पास 40 ड्राइवर हैं, इन सभी का नाम लिखकर सरकार के पास भेजा जाएगा. कई एंबुलेंस आज छपरा के लिए रवाना होंगी और पप्पू यादन इन एंबुलेंस का खर्चा उठाएंगे. बताते चलें कि बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के घर कई एंबुलेंस खड़ी दिखाई दीं थी. इसका वीडियो सामने आया तो रुडी ने पप्पू यादव को ड्राइवर लाकर सभी एंबुलेंस चलवाने की चुनौती दी थी. जिसके जवाब में पप्पू य़ादव आज अपनी पूरी टीम के साथ पहुंचे और दावा किया वह इन 40 ड्राइवरों से एंबुलेंस चलवाने के लिए तैयार हैं. 


रूडी ने आरोप लगाया था  कि जबरदस्ती गैरकानूनी रूप से पप्पू यादव अपने काफिले के साथ अमनौर के सामुदायिक केंद्र परिसर में प्रवेश पहुंचे. वहां के चौकीदार और अन्य कर्मियों से भिड़ते हुए कोविड के कारण चालकों की कमी से पंचायतों द्वारा लौटाए गये एंबुलेंस की फोटो खिंचवाने लगे और वाहनों को नुकसान पहुंचाया. इसके जवाब में पप्पू यादव ने कहा था कि है. आपको ड्राइवर नहीं मिल रहा है तो सारण, 'पटना जहां चलाना चाहते हैं, सभी एंबुलेंस (Saran Ambulances) उपलब्ध कराएं. मैं 70 ड्राइवर देता हूं और कोरोना मरीज को मुफ्त सेवा दी जाएगी.घटिया राजनीति नहीं करता सेवा और जिंदगी बचाने को लड़ रहा हूं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में शुक्रवार को कोविड-19 से 62 और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 3,139 हो गई, जबकि संक्रमण के 13,466 नए मामले आने से राज्य में कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर 5.67 लाख तक पहुंच गए हैं. राज्य में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1.15 लाख है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, पटना जिले में अधिकतम 2,410 मामले आए और 19 मरीजों की मौत हो गई.