डेयरी में दूध की हांडी में शख्स ने लगाई डुबकी, TikTok पर Video वायरल होने के बाद मिली ऐसी सजा

तुर्की (Turkey) में एक डेयरी प्लांट (Dairy Plant) बंद हो गया, क्योंकि फुटेज में श्रमिक दूध की हांडी में डुबकी (Worker Bathes In Milk) लगाता हुआ दिखा. टिकटॉक (TikTok) पर वीडियो वायरल (Viral Video) हुआ, जहां शख्स को नहाता हुआ दिखाया गया.

डेयरी में दूध की हांडी में शख्स ने लगाई डुबकी, TikTok पर Video वायरल होने के बाद मिली ऐसी सजा

TikTok Viral Video: डेयरी में दूध की हांडी में शख्स ने लगाई डुबकी, फिर मिली ऐसी सजा

तुर्की (Turkey) में एक डेयरी प्लांट (Dairy Plant) बंद हो गया, क्योंकि फुटेज में एक श्रमिक दूध की हांडी में डुबकी (Worker Bathes In Milk) लगाता हुआ दिखा. टिकटॉक (TikTok) पर एक वीडियो वायरल (Viral Video) हुआ, जहां शख्स को दूध की हांडी में बैठा हुआ दिखाया गया है. वो दूध को सिर पर डालने के लिए मग का इस्तेमाल करता दिख रहा है. इस वीडियो को देखकर लोग हैरान रह गए और डेयरी की आलोचना करने लगे. मामले ने तूल पकड़ा तो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया और डेयरी प्लांट को बंद कर दिया गया.

हुर्रियत डेली न्यूज के अनुसार, वीडियो कोनी के केंद्रीय अनातोलियन प्रांत में एक डेयरी प्लांट में रिकॉर्ड किया गया था. दूध में डुबकी लेने वाले व्यक्ति की पहचान एरे सयार के रूप में की गई. और उसका वीडियो टिक-टॉक पर उगुर दुर्गुट द्वारा अपलोड किया गया था. वीडियो के वायरल होने के बाद दोनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

देखें TikTok Viral Video:

यह फुटेज तेजी से विभिन्न प्लेटफार्मों में फैल गया. हालांकि, डेयरी प्लांट ने कहा है कि टर्गुट, जिसका कंपनी के साथ अनुबंध घटना के बाद समाप्त हो गया था. डेयरी प्लांट ने बताया कि शख्स दूध में नहीं नहा रहा था, बल्कि वो पानी के मिक्सचर और तरल पदार्थ की सफाई कर रहा था.


उन्होंने दावा किया कि वीडियो उनकी कंपनी को बदनाम करने का एक प्रयास था और उन्होंने कहा कि वीडियो में बॉयलर को धोने के लिए फ्लुईड का इस्तेमाल किया गया था. दूसरी ओर, समाचार वेबसाइट हैबरलर की रिपोर्ट के अनुसार, कोन्या एग्रीकल्चर एंड फॉरेस्ट्री मैनेजर अली एरगिन ने इस घटना की जांच शुरू की और फैक्ट्री को बंद कर दिया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि संयंत्र को "मानव स्वास्थ्य को खतरे में डालने वाली परिस्थितियों के कारण" परिचालन से प्रतिबंधित किया गया था और जुर्माना भी जारी किया गया था.