Positive Story: मिलिए साहिल कोठारी से जो आध्यात्म से लोगों को पॉजीटिव बना रहे हैं

कोरोनाकाल में हमने देखा कि लोग कैसे निराश और हताश होकर बैचैनी से जी रहे थे. लोग डिप्रेशन और मानसिक अवसाद में रहकर बेचैन हो रहे थे. ऐसे में साहिल कोठारी प्राचीन तरीके से लोगों को सही जीवन का मार्ग दे रहे हैं.

Positive Story: मिलिए साहिल कोठारी से जो आध्यात्म से लोगों को पॉजीटिव बना रहे हैं

कोरोनाकाल (Corona Pandemic) में हमने देखा कि लोग कैसे निराश और हताश (Depression) होकर बैचैनी से जी रहे थे. लोग डिप्रेशन और मानसिक अवसाद (Mental Health) में रहकर बेचैन हो रहे थे. ऐसे में साहिल कोठारी प्राचीन तरीके से लोगों को सही जीवन का मार्ग दे रहे हैं. लोगों को अध्यात्म से सकारात्मक रहने का तरीका बता रहे हैं. साहिल कोठारी अंक गणित या अंक ज्योतिष के ज्ञाता हैं. इसके ज़रिए वो लोगों को उनकी ज़िंदगी से जुड़ी परिस्थितियों का सटीक विश्लेषण करके उन्हें सही चीज़ों से अवगत कराते हैं. देखा जाए तो सनातन की प्राचीन परम्पराओं में ज्योतिष एवं अध्यात्म को नकारा नहीं जा सकता है, इसे सभी ने स्वीकार किया है.

पेशे से साहिल कोठारी अध्यात्मिक परामर्शदाता हैं. वर्तमान में वो साहिल कोठारी ट्रेनिंग एंड कंस्लटेंसी चलाते हैं. इसके ज़रिए वो लोगों को पॉजीटिव रहना सीखाते हैं. साहिल कोठारी एक बेहतरीन लाइफ़ कोच हैं. इनका काम लोगों को मोटिवेट करना और ज़िंदगी के प्रति प्रेम करना सिखाना है. 

एनडीटीवी से बात करते हुए साहिल कोठारी ने बताया कि लोग मनोवैज्ञानिक दृष्टि से मज़बूत तभी हो पाते हैं, जब वो विषम परिस्थितियों में भी ख़ुश रहना जानते हों. बड़े हो या छोटे हों सभी का सम्मान ज़रूर करना चाहिए, इससे इंसान मज़बूत और पॉजीटिव रहता है. दूसरों के प्रति दया दिखाने से, दोस्तों के साथ ख़ुशियां बिताने से भी इंसान अंदर से मज़बूत रहता है.


अंक विद्या या अंक ज्योतिष एक ऐसा शास्त्र है जिसमें जन्मतिथि के साथ संबंधित अन्य अंकों की गणना मात्र से संबंधित समय या संदर्भ का वर्तमान एवं भविष्य निर्धारित किया जाता है. साथ ही कई खगोलीय घटनाओं का भी अनुमान इस विद्या के द्वारा लगा पाना आसान हुआ है. सूर्य ग्रहण एवं चंद्र ग्रहण के अलावा कई पिंडो की स्थिति की गणना भी इस माध्यम से की जाने लगी है.

ज्योतिष एवं अंक विद्या लोगों के लिए एक मिथक हो सकते हैं लेकिन कई लोगों ने इस पर विश्वास कर सफलता भी प्राप्त की है. साथ ही इस विद्या के सदुपयोग से कई असाध्य रोगों को भी साध पाना आसान रहा है. विगत कुछ वर्षों में लोगों का ध्यान एवं रुचि भी ज्योतिष तथा आध्यात्म में बढ़ी है. सम्पूर्ण विश्व जब कोरोना जैसी आपदा से जूझ रहा था उस समय आध्यात्म एवं योग ने स्वयं को सकारात्मक बनाए रखने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

अभी हाल ही में हमने देखा कि कोरोना वायरस ने लोगों की ज़िंदगियों को कैसे प्रभावित किया है. साहिल कोठारी ने बताया कि कैसे कोरोनाकाल में भी ज्योतिषशास्त्र के ज़रिए लोगों की परेशानियां कम हुई हैं. साहिल ने बताया कि सभी रत्नों की अपनी ख़ासियत होती है. ये लोगों की ज़िंदगी से जुड़े हुए हैं. कोरोनाकाल के दौरान सही मंत्रोच्चारण और रत्नों से लोगों को काफी राहत मिली है.
  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       

अंक विद्या लोगों की ज़िंदगी को आसान बनाती है. ये जन्मदिवस से लेकर मोबाइल नंबर या गाड़ी नंबर तक के लिए महत्वपूर्ण है. अंक विद्या के ज़रिए लोगों की ज़िंदगी को सरल बनाया जाता है. वर्तमान समय में देखा जाए तो विज्ञान के दौर में भी अंक ज्योतिष का अपना अलग महत्व है. अगर आप कोई बिज़नस शुरु करते हैं तो ऐसे में मालिक के जन्मदिवस से उसकी सफ़लता को जांचा जा सकता है. इसलिए अंक विद्या वर्तमान समय में भी प्रासंगिक है.