बारिश न होने की वजह से परेशान शख्स ने थाने जाकर 'इंद्र देवता' के खिलाफ कर दी शिकायत, बोला- कार्यवाही होनी चाहिए !

यूपी के गोंडा का एक मामला चर्चा का विषय बन गया है. यहां के एक शख्स ने बरिश न होने पर परेशान होकर इंद्र देवता (Indra Devta) के खिलाफ ही शिकायत कर दी!

बारिश न होने की वजह से परेशान शख्स ने थाने जाकर 'इंद्र देवता' के खिलाफ कर दी शिकायत, बोला- कार्यवाही होनी चाहिए !

सावन का महीना चल रहा है, ऐसे में जब हर तरफ बारिश और सुहाना मौसम होना चाहिए. लेकिन, उत्तर भारत और दिल्ली समेत कुछ राज्यों में अबतक बारिश के आसार ही नहीं दिख रहे हैं. वहीं, कुछ राज्यों में इतनी ज्यादा बारिश हो रही है कि लोग बारिश से परेशान हो गए हैं. ऐसे में यूपी के गोंडा का एक मामला चर्चा का विषय बन गया है. यहां के एक शख्स ने बरिश न होने पर परेशान होकर इंद्र देवता (Indra Devta) के खिलाफ ही शिकायत कर दी! शिकायत पत्र (Complaint Letter) सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और लोग मजे लेने लगे. हालांकि, जब पूरी घटना सामने आई तो तहसीलदार नरसिंह नारायण वर्मा ने बताया, कि 'सोशल मीडिया पर भगवान इंद्र देवता के खिलाफ वायरल हो रहा ये प्रार्थना पत्र फर्जी है. प्रार्थना पत्र पर उनके हस्ताक्षर और आदेश भी पूरी तरह फर्जी हैं. इसको लेकर शिकायत करने वाले शख्स के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है.'

रिपोर्ट के अनुसार, करनैलगंज तहसील में शनिवार को 'संपूर्ण समाधान दिवस 2022' का आयोजन किया गया था. इसमें कौड़िया थाना क्षेत्र के झाला गांव के रहने वाले सुमित कुमार भी अपनी शिकायत लेकर पहुंचे थे. सुनवाई करने वाले अधिकारियों को उन्होंने प्रार्थना पत्र दिया. प्रार्थना पत्र देखने के बाद वहां मौजूद सभी अधिकारी हैरान रह गए. दरअसल, शख्स ने बारिश न होने पर इंद्र देवता के खिलाफ शिकायती प्रार्थना पत्र दिया था.

इस प्रार्थना पत्र के विषय में शिकायतकर्ता ने पानी न बरसने और सूखा पड़ने की बात लिखी है. उसने आगे लिखा- बीते कई महीने से पानी नहीं बरस रहा है जिससे जनमानस परेशान है. जीव-जंतुओं और खेती पर काफी प्रभाव पड़ रहा है. लोग गर्मी से बेहाल हो रहे हैं. अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि आवश्यक कार्रवाई करने की कृपा करें. सुमित कुमार के शिकायती पत्र को तहसीलदार करनैलगंज ने कार्रवाई के लिए आगे बढ़ा दिया है.

शिकायत पत्र वायरल होने के बाद लोगों ने खूब मजेदार कमेंट्स करने शुरु कर दिए. हालांकि, कुछ ने इसे गंभीरता से भी लिया और शख्स के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की. एक यूजर ने लिखा- लगता है तहसीलदार की पहुंच बहुत ऊपर तक है. वहीं अन्य शख्स ने लिखा- कहीं इनके ऊपर एफआईआर ना हो जाए. वैसे इस मामले में आपकी क्या राय है. कमेंट करके हमें जरूर बताए.
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उज्‍जैन जिले में भारी बारिश के बीच पुलिया से जीप बही