स्कूल में क्रैश हो गया था 'उल्का पिंड', NASA ने मांगी रिपोर्ट तो निकली यह चीज

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने हाल ही में एक ऑस्ट्रेलियाई स्कूल (Australian School) से सोमवार को अपने परिसर में एक उल्कापिंड के दुर्घटनाग्रस्त (Meteorite Crash) होने की जानकारी मांगी थी. लेकिन खबर फेक साबित हुई.

स्कूल में क्रैश हो गया था 'उल्का पिंड', NASA ने मांगी रिपोर्ट तो निकली यह चीज

स्कूल में क्रैश हो गया था 'उल्का पिंड', पास जाकर देखा तो निकली यह चीज...

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने हाल ही में एक ऑस्ट्रेलियाई स्कूल (Australian School) से सोमवार को अपने परिसर में एक उल्कापिंड के दुर्घटनाग्रस्त (Meteorite Crash) होने की जानकारी मांगी थी. लेकिन दुनिया की सबसे प्रमुख अंतरिक्ष एजेंसी का ध्यान खींचने के बावजूद, दुर्घटना नकली खबर (Fake News) निकली.

7 न्यूज के मुताबिक, क्वींसलैंड के एक स्कूल के मैदान में उल्कापिंड के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबरें फेसबुक पर 'स्पेस लैंडिंग' से तस्वीरें साझा किए जाने के बाद वायरल होने लगीं. तस्वीरों को कल 'ऑस्ट्रेलिया दुर्घटना जांच इकाई' नामक एक फेसबुक पेज पर साझा किया गया था.

तस्वीरों में घास पर सुलगती हुई एक विशाल, आकर्षक चट्टान दिखाई दे रही है, जिसके पीछे पृथ्वी का निशान काला है. पोस्ट ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर 2,000 से अधिक टिप्पणियां और 2,400 से अधिक शेयर एकत्र किए हैं. 


मलंडा स्टेट स्कूल के प्रिंसिपल मार्क एलन ने 7 न्यूज को बताया, "नासा सहित दुनिया भर से हमारे पास सभी प्रकार की पूछताछ है, जिन्होंने हमें कैनेडी स्पेस सेंटर को एक रिपोर्ट बनाने के लिए कहा.'' हालांकि, जैसा कि यह निकला, 'उल्कापिंड' एक स्कूल प्रोजेक्ट से ज्यादा कुछ नहीं था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्कूल के पत्रकारिता के छात्रों को 'उल्कापिंड' के उतरने, गवाहों के साक्षात्कार और आपातकालीन कर्मियों से बात करने का काम सौंपा गया था. डेली मेल के हवाले से एक स्थानीय निवासी के हवाले से बताया गया, "स्थानीय पुलिस को स्कूल और बच्चों के लिए इसमें शामिल होना पसंद था. यह एक छोटा शहर है, वे इसे (स्कूल प्रोजेक्ट) के वायरल होने की उम्मीद नहीं करते थे.''