यह ख़बर 18 नवंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

टोनी एबट के साथ पीएम मोदी की शिखर बैठक में ऊर्जा, व्यापार और सुरक्षा पर होगी चर्चा

टोनी एबट के साथ पीएम मोदी की शिखर बैठक में ऊर्जा, व्यापार और सुरक्षा पर होगी चर्चा

कैनबरा:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को कैनबरा में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टोनी एबट के साथ शिखरवार्ता करेंगे और दोनों देश सामाजिक सुरक्षा, सजायाफ्ता कैदियों के हस्तांतरण और नशीली दवाओं के कारोबार पर अंकुश लगाने समेत कुछ समझौतों पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया के चार शहरों की यात्रा के तीसरे चरण में मोदी सिडनी से एयर इंडिया के विशेष विमान से करीब 30 मिनट की उड़ान के बाद सोमवार रात कैनबरा पहुंचे।

यहां प्रोटोकॉल से हटकर डिफेंस एस्टेब्लिशमेंट फेयरबेम में विदेश मंत्री जूली बिशप ने मोदी की अगवानी की। यह राजीव गांधी की ऑस्ट्रेलिया यात्रा के 28 साल बाद भारतीय प्रधानमंत्री की इस देश की यात्रा को दिए जा रहे महत्व को झलकाता है। सामान्य तौर पर जब विदेशी मेहमान रात को पहुंचते हैं तो उनका इस स्तर से स्वागत करने का चलन नहीं है।

सामाजिक सुरक्षा पर समझौते से दोनों देशों के बीच कर्मचारियों के आदान-प्रदान में सुलभता आ सकती है और यह दोतरफा निवेश को बढ़ावा दे सकता है।

तीन देशों की 10 दिनी यात्रा के दूसरे चरण में जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने पिछले शुक्रवार को ब्रिस्बेन पहुंचे मोदी की यात्रा का उद्देश्य ऑस्ट्रेलिया के साथ रणनीतिक भागीदारी करना है ताकि भारत के आर्थिक लक्ष्य और सामुद्रिक सुरक्षा समेत समग्र सुरक्षा हितों को मजबूत किया जा सके।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मोदी एबट के साथ वार्ता के बाद संघीय संसद को भी संबोधित करेंगे। बुधवार को संस्कृति और पर्यटन पर सहमति पत्र भी हस्ताक्षर हो सकते हैं। मोदी ने अपनी यात्रा के लिए रवाना होने से पहले कहा था कि ऑस्ट्रेलिया की उनकी यात्रा विशेष और ऐतिहासिक दोनों महत्व की है।