विज्ञापन
Story ProgressBack

मॉस्को में हुए आतंकी हमले के पीछे यूक्रेन की सरकार का हाथ होने के नहीं हैं सबूत : अमेरिका

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन जीन-पियरे ने मंगलवार को कहा कि यह आतंकवादी हमला आईएसआईएस द्वारा कराया गया था और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन इस बात को समझते हैं.

Read Time: 3 mins
मॉस्को में हुए आतंकी हमले के पीछे यूक्रेन की सरकार का हाथ होने के नहीं हैं सबूत : अमेरिका
अमेरिका ने मॉस्को के पास क्रोकस सिटी हॉल संगीत स्थल पर ISIS द्वारा किए गए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की.

यह पुष्टि करते हुए कि मॉस्को में क्रोकस में कॉन्सर्ट हॉल में आतंकवादी हमला आईएसआईएस द्वारा किया गया था, संयुक्त राज्य अमेरिका ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यूक्रेनी सरकार का इस हमले से कोई लेना-देना था. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन जीन-पियरे ने मंगलवार को कहा कि यह आतंकवादी हमला आईएसआईएस द्वारा कराया गया था और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन इस बात को समझते हैं.

उन्होंने कहा, "यह एक आतंकवादी हमला था जिसका जिम्मेदार आईएसआईएस है. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन इसे समझते हैं. उन्हें यह भलिभांति पता है. और इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यूक्रेन की सरकार का इस हमले में कोई हाथ है." संवेदना व्यक्त करते हुए कैरीन जीन-पियरे ने कहा कि वह एक सेकंड के लिए पीछे हटना चाहती हैं और उन लोगों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करना चाहती हैं जिन्होंने इस भीषण हमले के कारण अपने प्रियजनों को खो दिया और जो घायल हो गए. उन्होंने कहा, "हम मॉस्को में हुए जघन्य आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते रहेंगे".

पियरे ने कहा, "हम इस इस बारे में बहुत स्पष्ट हैं. 7 मार्च को हमने रूस में मौजूद अमेरिकियों को जानकारी दी थी और एक पब्लिक एडवायजरी भी जारी की थी. और इस हलमे की जिम्मेदारी आईएसआईएस लेता है." बता दें कि कॉन्सर्ट हॉल में हुए इस आतंकवादी हमले में 133 लोगों की मौत हो गई.

संयुक्त राज्य अमेरिका ने मॉस्को के पास क्रोकस सिटी हॉल संगीत स्थल पर आईएसआईएस द्वारा किए गए "जघन्य" आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की है और शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन जीन-पियरे ने एक बयान में आईएसआईएस को 'साझा आतंकवादी दुश्मन' करार दिया और कहा कि इसे हर जगह हराने की जरूरत है. बयान में कहा गया है, "संयुक्त राज्य अमेरिका मॉस्को में जघन्य आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता है. हम उन लोगों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है और जो निर्दोष नागरिकों के खिलाफ इन अचेतन हमलों से घायल या प्रभावित हुए हैं. आईएसआईएस एक आम आतंकवादी दुश्मन है जिसे हर जगह हराना होगा."

इसके अलावा, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने रूस के मॉस्को में आतंकवादी हमले की निंदा की और कहा कि अमेरिका, रूस के साथ खड़ा है. एक्स पर एक पोस्ट में, ब्लिंकन ने कहा, "संयुक्त राज्य अमेरिका 22 मार्च को मॉस्को में हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता है. हम इस भयावह घटना के बाद जानमाल के नुकसान के शोक में रूस के लोगों के साथ एकजुटता से खड़े हैं."

पुतिन ने सोमवार को एक टेलीविज़न मीटिंग में कहा, "हम जानते हैं कि अपराध कट्टरपंथी इस्लामवादियों के हाथों किया गया था, जिनकी विचारधारा से इस्लामी दुनिया खुद सदियों से लड़ रही है. उन्होंने यूक्रेन का जिक्र करते हुए कहा, "यह अत्याचार उन लोगों के प्रयासों की एक पूरी श्रृंखला की एक कड़ी हो सकता है जो 2014 से नव-नाजी कीव शासन के हाथों हमारे देश के साथ युद्ध कर रहे हैं".

 गौरतलब है कि 22 मार्च को मॉस्को के पास क्रोकस सिटी हॉल संगीत स्थल पर यह आतंकी हमला हुआ था.

यह भी पढ़ें : मॉस्को हमले में 133 लोगों की मौत, ISIS का दावा - 4 लड़ाकों ने किया अटैक

यह भी पढ़ें : मॉस्को आतंकी हमला: रूस ने 4 हमलावर समेत 11 लोगों को हिरासत में लिया

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
यदि यूक्रेन अपने सैनिकों को वापस बुला ले, तो रूस उसके साथ बातचीत को तैयार : व्लादिमीर पुतिन
मॉस्को में हुए आतंकी हमले के पीछे यूक्रेन की सरकार का हाथ होने के नहीं हैं सबूत : अमेरिका
"इस वजह से दोनों देशों में है तनाव...", कनाडा से संबंध पर बोले भारत के उच्चायुक्त
Next Article
"इस वजह से दोनों देशों में है तनाव...", कनाडा से संबंध पर बोले भारत के उच्चायुक्त
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;