पत्नी और मां की हत्या में पूर्व भारतीय एथलीट US में गिरफ्तार, खुद किया पुलिस को फोन : रिपोर्ट

इकबाल का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर 18.77 मीटर था जो राष्ट्रीय रिकार्ड भी था. बलविंदर ने कहा कि इकबाल टैक्सी ड्राइवर बनकर अमेरिका में बस गया तो उनका संपर्क छूट गया था.

पत्नी और मां की हत्या में पूर्व भारतीय एथलीट US में गिरफ्तार, खुद किया पुलिस को फोन : रिपोर्ट

पत्नी और मां की हत्या करने पर पूर्व भारतीय एथलीट अमेरिका में गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वाशिंगटन:

भारत के लिये एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले पूर्व एथलीट इकबाल सिंह को अपनी पत्नी और मां के हत्या के आरोप में अमेरिका में गिरफ्तार किया गया है. मीडिया रिपोर्टों में यह जानकारी दी गयी है. ‘द फिलाडेल्फिया इन्क्वायरर' ने अधिकारियों के हवाले से कहा है कि पेनसिलवेनिया के डेलवारे काउंटी के रहने वाले 62 वर्षीय इकबाल सिंह ने रविवार की सुबह पुलिस को फोन किया और अपना अपराध कबूल किया. 

रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस जब न्यूटाउन टाउनशिप में इकबाल के आवास पर पहुंची तो उन्होंने देखा कि वह खून से लथपथ है और उसने खुद को भी चोट पहुंचायी है. घर के अंदर दो महिलाओं के शव पड़े थे. इसमें कहा गया है इकबाल पर सोमवार को हत्या के आरोप तय किये गये और उसे हिरासत में रखा गया है. आरोपों की प्रकृति को देखते हुए उसे जमानत नहीं मिली. उसने अपना पक्ष रखने के लिये किसी वकील की सेवाएं नहीं ली हैं. 

इकबाल गोला फेंक के एथलीट थे और उन्होंने 1983 में कुवैत में एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था. यह उनके खेल करियर की सबसे बड़ी उपलब्धि थी. इसके बाद वह अमेरिका जाकर बस गये थे. अमेरिकी मीडिया की रिपोर्टों के अनुसार वह टैक्सी कैब ड्राइवर के रूप में काम कर रहे थे. एनबीसी न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार इकबाल को उपचार के लिये अस्पताल ले जाया गया जहां वह पुलिस हिरासत में हैं. 

हत्या के आरोपी पूर्व भारतीय शॉटपुट खिलाड़ी इकबाल सिंह के साथी खिलाड़ी उन्हें बेहद प्रतिस्पर्धी एथलीट के रूप में याद करते हैं और इस घटनाक्रम से स्तब्ध हैं. उनके साथ खेल चुके एक एथलीट ने कहा कि 1988 सियोल ओलंपिक के लिये टीम में जगह नहीं मिलने पर इकबाल ने तत्कालीन भारतीय अमैच्योर एथलेटिक्स महासंघ को अदालत में घसीटने की धमकी दी थी. उन्होंने कहा ,‘‘ वह अस्सी के दशक का लोकप्रिय एथलीट था. 

बलविंदर सिंह धालीवाल ने चंडीगढ से कहा ,‘‘वह काफी प्रतिस्पर्धी था. मैं उसके करीबी था और वह बहुत अच्छा बंदा था. अमेरिका में पुलिस मामले की जांच कर रही है तो मैं कुछ कह नहीं सकता लेकिन मुझे वह ऐसा इंसान नहीं लगता था जो किसी का खून कर सकता है.''


इकबाल का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर 18.77 मीटर था जो राष्ट्रीय रिकार्ड भी था. बलविंदर ने कहा कि इकबाल टैक्सी ड्राइवर बनकर अमेरिका में बस गया तो उनका संपर्क छूट गया था.

वीडियो: सुलेमानी की हत्या के बाद बढ़ता तनाव, राष्ट्रपति ट्रंप ने दिया था हमले का आदेश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)